होम /न्यूज /बिहार /RJD की रजत जयंती पर बोले लालू यादव- तेजस्वी और राबड़ी नहीं होते, तो रांची में मर जाते

RJD की रजत जयंती पर बोले लालू यादव- तेजस्वी और राबड़ी नहीं होते, तो रांची में मर जाते

लालू ने कहा कि हमारा तेजस्वी तो तेज है, लेकिन हमने अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव का भी भाषण सुना, उसके भाषण में दम है.

लालू ने कहा कि हमारा तेजस्वी तो तेज है, लेकिन हमने अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव का भी भाषण सुना, उसके भाषण में दम है.

RJD 25th Foundation Year: लगभग साढ़े तीन साल बाद जेल से बाहर आये लालू यादव ने कहा कि अगर तेजस्वी यादव और हमारी पत्नी राब ...अधिक पढ़ें

पटना. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सोमवार को अपने स्थापना का रजत जयंती मना रहा है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव (Lalu Yadav) ने दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से 25वें स्थापना दिवस कार्यक्रम का उदघाटन किया. वहीं, पटना (Patna) में आरजेडी के कार्यालय में बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव समेत अन्य नेता मौजूद रहे. पार्टी की स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में आरजेडी नेताओं ने अपने संकल्प को दोहराया और केंद्र व बिहार सरकार (Bihar Government) पर हमला बोला. कार्यक्रम के अंत में लालू यादव ने सबको संबोधित किया. लालू ने कहा कि बहुत जल्द हम बिहार आयेंगे और आप सब के बीच होंगे. वहीं, जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) ने लालू यादव और राबड़ी देवी के शासन का याद दिलाते हुए 25 पोस्टर के जरिए आरजेडी से 25 सवाल पूछे हैं.

लगभग साढ़े तीन साल बाद जेल से बाहर आये लालू यादव ने कहा कि अगर तेजस्वी यादव और हमारी पत्नी राबड़ी देवी नहीं होती तो हम वहीं रांची में मर जाते. हमको वहां से तुरंत प्लेन से दिल्ली लाया गया और एम्स में भर्ती कराया गया. अब हम ठीक हैं, थोड़ी बीमारी और रह गयी है. हम बहुत जल्द आपके और बिहार के लोगों के बीच आयेंगे. हम पटना आयेंगे, इसके बाद पूरे बिहार में घूमेंगे. हम हर जिले में जायेंगे और लोगों से बात करेंगे. हमारा तेजस्वी तो तेज है, लेकिन हमने अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव का भी भाषण सुना, उसके भाषण में दम है.

RJD की स्थापना के बाद हमारा लगातार अच्छा प्रदर्शन

लालू यादव ने इस मौके पर कहा कि वरिष्ठ नेता रहे हेगड़े जी (रामकृष्ण हेगड़े) के कहने पर हमने दल का नाम आरजेडी रखा था. हमें समझ में नहीं आ रहा था कि अपने दल का नाम क्या रखें. तब हमने हेगड़े जी को फोन किया. उनके कहने पर ही हमने अपनी नई पार्टी का नाम राष्ट्रीय जनता दल रखा. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की स्थापना के बाद से हुए चुनाव में लगातार हमारा प्रदर्शन अच्छा रहा. लेकिन इस बार असेंबली चुनाव में हम तड़पते रह गये लेकिन हम बाहर नहीं आ सके. हमारी बात तेजस्वी से होते रहती थी तब तेजस्वी ने कहा था कि आप चिंता मत कीजिये हम इन लोगों से निपट लेंगे.

दूसरी तरफ, जेडीयू के एमएलसी और पूर्व मंत्री नीरज सिंह ने आरजेडी की रजत जयंती के मौके पर लालू यादव और राबड़ी देवी की सत्ता का याद दिलाते हुए 25 पोस्टर जारी किया, और इसके जरिये उनसे 25 सवाल पूछे हैं.

Tags: Bihar politics, Lalu Prasad Yadav, Politics of Bihar, RJD, Tejashwi Yadav

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें