होम /न्यूज /बिहार /

महंगाई पर तेजस्वी यादव का हल्ला बोल, कहा- 18-19 जुलाई को महागठबंधन पूरे बिहार में करेगा विरोध-प्रदर्शन

महंगाई पर तेजस्वी यादव का हल्ला बोल, कहा- 18-19 जुलाई को महागठबंधन पूरे बिहार में करेगा विरोध-प्रदर्शन

तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए कहा कि डबल इंजन सरकार होने पर भी विकास नहीं दिखता और महंगाई बेकाबू हो गई है (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए कहा कि डबल इंजन सरकार होने पर भी विकास नहीं दिखता और महंगाई बेकाबू हो गई है (फाइल फोटो)

Bihar News: आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बढ़ती महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ महागठबंधन (Mahagathbandhan) विरोध-प्रदर्शन करेगा. 18 जुलाई को सभी प्रखंडों में और 19 तारीख को सभी जिला मुख्यालयों में विरोध दर्ज किया जाएगा. इसमें आरजेडी-कांग्रेस और सहयोगी दलों के नेता-कार्यकर्ता शामिल होंगे

अधिक पढ़ें ...
पटना. बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोला है. बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के कार्यालय पहुंचकर उन्होंने पार्टी के नेताओं के साथ इस पर चर्चा की. तेजस्वी यादव ने महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार (Central Government) को घेरने को लिए सड़क पर उतरकर आंदोलन करने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ महागठबंधन (Mahagathbandhan) विरोध-प्रदर्शन करेगा. 18 जुलाई को सभी प्रखंडों में और 19 तारीख को सभी जिला मुख्यालयों में विरोध दर्ज किया जाएगा. इसमें आरजेडी-कांग्रेस और सहयोगी दलों के नेता-कार्यकर्ता शामिल होंगे.

तेजस्वी ने कहा कि हर चीज की कीमत आसमान छू रही है. वो करते थे अच्छे दिन की बात और आ गये बुरे दिन. उन्होंने कहा कि सरकार जल्द से जल्द पेट्रोल-डीजल के दाम कम करे.

इसके अलावा, विधानससभा का मॉनसून सत्र शुरू होने से पहले उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष को विधायकों की सुरक्षा के संबंध में पत्र लिखा है. तेजस्वी ने कहा कि सदन में विधायकों को पीटा गया, महिला विधायकों के साथ भी बदसलूकी की गई और उन्हें भद्दी-भद्दी गालियां दी गयी. जिस दिन यह घटित हुआ, वो विधानसभा के लिए काला दिन था. उन्होंने कहा कि 25 जुलाई को महागठबंधन के सभी घटक दलों के विधायकों के साथ बैठक किया जाएगा जिसमें यह निर्णय लिया जाएगा कि मॉनसून सत्र में क्या करना है.

बिहार में बाढ़ की समस्या पर दोनों सरकार करें पहल 

राज्य में आई बाढ़ की समस्या पर तेजस्वी ने तंज कसते हुए कहा, अब डबल इंजन की सरकार है तो अब क्यों नहीं हो रहा है समस्या का समाधान. सरकार को गंभीर होकर इसके स्थायी निदाय पर विचार करना चाहिए. भारत सरकार और राज्य सरकार को मिल कर पहल करनी चहिए. बिहार के द्वारा कई बार फरक्का बांध का मामला उठाया गया है लेकिन इसका कोई निष्कर्ष नहीं निकला है. उन्होंने कहा कि बिहार में जब भी बाढ़ आता है मुख्यमंत्री नाव पर नहीं घूमते बल्कि वो सिर्फ हवाई सर्वेक्षण करते हैं. हम-जब हकीकत बताते हैं तो लोग हमसे ही सवाल पूछने लगते हैं. उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास पावर है, तेजस्वी यादव को सीएम बना दें, फिर देखिए सारी समस्याओं का समाधान कैसे होता है.

तेजस्वी यादव ने कोरोना संक्रमण के संभावित तीसरे लहर और टीकाकरण को लेकर भी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि थर्ड वेव कई जगह आ चुका है लेकिन बिहार में इसको लेकर कोई तैयारी नहीं है. लोगो को टीका नहीं लग रहा है. सरकार के द्वारा छह महीना में छह करोड़ वैक्सीन देने की घोषणा की जाती है लेकिन वैक्सीन है ही नहीं. लोगों को वैक्सीन नहीं लग रही है. सरकार आंकड़ा बताए अब तक कितने लोगों को वैक्सीन लगा है.

तेजस्वी यादव के आरोपों पर JDU का पलटवार

वहीं, तेजस्वी यादव के आरोपों पर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने पलटवार करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव पॉलिटिकल कोविड के शिकार हैं. देश भर में एक्टिव केस के मामले में बिहार का 26वां स्थान है. बिहार में अभी तक 18 वर्ष से ऊपर आयु वाले एक करोड़ 92 लाख 16 हजार 811 लोगों को टीका लगाया जा चुका है. उन्होंने कहा कि बाढ़ग्रस्त इलाके में नाव पर टीका क्लीनिक चलाया जा रहा है. इसके अलावा टीका एक्सप्रेस चलाया जा रहा है.

नीरज कुमार ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि संकट के दौर में आप बाहर रहते हैं. लेकिन आपके विधानसभा क्षेत्र राघोपुर में भी टीकाकरण हो रहा है. बिदुपुर में अभी तक 38,825 और राघोपुर मे 24,317 लोगों का टीकाकरण हो चुका है.

Tags: Bihar politics, PATNA NEWS, Politics of Bihar, Tejashwi Yadav

अगली ख़बर