होम /न्यूज /बिहार /

मॉनसून सत्र से पहले तेजस्वी ने स्पीकर को लिखा पत्र, कहा- विपक्षी विधायकों को विधानसभा में लगता है डर

मॉनसून सत्र से पहले तेजस्वी ने स्पीकर को लिखा पत्र, कहा- विपक्षी विधायकों को विधानसभा में लगता है डर

तेजस्वी यादव ने पत्र में बजट सत्र के दौरान विधानसभा के अंदर विपक्षी विधायकों के साथ हुई मारपीट और बदसलूकी मामले में हुई कार्रवाई की जानकारी मांगी है (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव ने पत्र में बजट सत्र के दौरान विधानसभा के अंदर विपक्षी विधायकों के साथ हुई मारपीट और बदसलूकी मामले में हुई कार्रवाई की जानकारी मांगी है (फाइल फोटो)

Bihar News: नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने विधानसभा अध्‍यक्ष को लिखे पत्र में कहा है कि 23 मार्च, 2020 को विधानसभा में हुई घटना की वजह से विधायक अब तक डरे हुए हैं. विपक्षी दलों के सभी विधायकों ने बैठक कर उनसे आग्रह किया है कि वो सदन में सुरक्षा की गारंटी दिलाएं

अधिक पढ़ें ...
पटना. बिहार विधानमंडल का मॉनसून सत्र 26 जुलाई से शुरू हो रहा है. लेकिन इसको लेकर अभी से सियासत गर्म हो गई है. दरसल नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर बजट सत्र के दौरान सदन में हुए बवाल का मामला फिर से उठा दिया है. बजट सत्र के दौरान पुलिस विधेयक पर हुए हंगामे के बाद विधानसभा में पुलिस को बुलाना पड़ा था. पुलिस ने विधायकों को उठा कर और घसीटते हुए सदन से बाहर कर दिया था. तेजस्वी ने पत्र लिखकर विधानसभा अध्यक्ष (Bihar Assembly Speaker) से इस मामले में क्या कारवाई हुई, यह पूछा है. साथ ही उन्होंने विधायकों की सुरक्षा के पूरी बंदोबस्त करने की भी मांग उठाई है.

बजट सत्र के दौरान विधानसभा में हुए हंगामे और उसपर हुई कार्रवाई पर तेजस्‍वी ने तब कहा था कि जब तक इस मामले के दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं होगी, वो सदन में नहीं जाएंगे. अब जबकि सरकार ने मॉनसून सत्र बुलाने का एलान किया है तो तेजस्‍वी ने खत लिखकर इस मामले में हुई कारवाई का ब्योरा देने की मांग की है.

सदन में विधायकों को मिले सुरक्षा की गारंटी

तेजस्‍वी यादव ने विधानसभा अध्‍यक्ष को लिखे पत्र में कहा है कि 23 मार्च, 2020 को विधानसभा में हुई घटना की वजह से विधायक अब तक डरे हुए हैं. विपक्षी दलों के सभी विधायकों ने बैठक कर उनसे आग्रह किया है कि वो सदन में सुरक्षा की गारंटी दिलाएं. उन्होंने कहा कि विधायक विधानसभा में जाने से डर रहे हैं और वो तभी सदन में जाएंगे जब पूरे मामले में संलिप्‍त पदाधिकारी और कर्मियों पर कार्रवाई करते हुए सरकार उन्‍हें सुरक्षा का आश्‍वासन देगी.



नेता प्रतिपक्ष ने अपने पुराने पत्र का हवाला देते हुए कहा कि इस जघन्‍य घटना पर यदि कार्रवाई नहीं हुई तो इतिहास माफ नहीं करेगा. उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि इस मामले में समुचित कार्रवाई हो चुकी होगी. तेजस्‍वी ने विधानसभा अध्‍यक्ष से कार्रवाई का ब्‍योरा सभी विधायकों को उपलब्‍ध कराने की मांग की है.

Tags: Bihar politics, Monsoon Session, PATNA NEWS, Politics of Bihar, Tejashvi Yadav

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर