लाइव टीवी

छात्र संघ चुनाव: 'पीयू' फतह में रंग लाई 'पीके' की पॉलिसी, JDU के सिर बंधा जीत का सेहरा

News18 Bihar
Updated: December 6, 2018, 12:29 PM IST
छात्र संघ चुनाव: 'पीयू' फतह में रंग लाई 'पीके' की पॉलिसी, JDU के सिर बंधा जीत का सेहरा
नीतीश कुमार के साथ प्रशांत किशोर की फाइल फोटो

नीतीश कुमार बिहार की राजनीति के चाणक्य माने माने जाते हैं और चाणक्य ने अपने चंद्रगुप्त प्रशांत किशोर को पीयू की इस राजगद्दी पर कब्जा करने का महती टास्क सौंप दिया था.

  • Share this:
पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर आखिरकार जदयू ने कब्जा जमा ही लिया. पहली बार पीयू छात्र संघ के चुनाव कुछ इस प्रकार लड़े गए जैसे ये चुनाव न होकर मगध साम्राज्य की राजगद्दी पर कब्जा जमाने की लड़ाई हो. चाणक्य ने चुटिया बांध ली तो रणनीतिकार से राजनीति में आए नये नवेले चंद्रगुप्त ने साम, दाम, दंड, भेद की रणनीति अपनाने के आरोप झेले, पत्थर भी झेले लेकिन परिणाम सामने है.

ये भी पढ़ें- PHOTO: वोटिंग की कतार से जीत के जश्न तक, तस्वीरों में देखें पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव

लालू यादव, सुशील मोदी, नीतीश कुमार राजनीति के ये वर्तमान सितारे जो आज बिहार की आकाशगंगा में चमक रहे हैं. कभी ये सभी छात्र राजनीति के टिमटिमाते तारे रहे हैं. ये सभी छात्र राजनीति की ही उपज हैं लेकिन तब से लेकर अब तक विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति कभी इस कदर मगध साम्राज्य की राजगद्दी नहीं बनी थी. नीतीश कुमार बिहार की राजनीति के चाणक्य माने जाते हैं और चाणक्य ने अपने चंद्रगुप्त प्रशांत किशोर को 'पीयू' की इस राजगद्दी पर कब्जा करने का महती टास्क सौंप दिया.

ये भी पढ़ें- तेजस्वी ने जारी की मंत्रियों के आवास में रहने वाले JDU के 9 नेताओं की सूची

रणनीतिकार से राजनीति के नये बने चंद्रगुप्त ने भी चुटिया बांधकर चाणक्या द्वारा मिले इस हुक्म का तामिल करने में खुद को झोंक दिया. उनपर आरोप भी लगे, उन्होंने पत्थर भी झेले. बंधु-बांधव, बंधन-गठबंधन सब कुछ दांव पर लगा दिया. लेकिन परिणाम सामने है और जेडीयू ने पहली बार छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर कब्जा जमाया.

राजनीति के कुरुक्षेत्र का यही नया नियम है. गीता के उपदेश की यही नयी व्याख्या है. गीता में कृष्ण ने कहा है, 'कर्म कर, परिणाम की चिंता ना कर' लेकिन आज के इस मागधी युद्धक्षेत्र के चाणक्य कहते हैं परिणाम ला. 'पीयू' के इस कुरुक्षेत्र में आखिरकार अध्यक्ष पद पर कब्जा हो गया. 'पीयू' युद्ध के दौरान जदयू-भाजपा की तल्खी तो यही कहानी कह रही है कि साथ होकर भी द्वंद जारी है.

रिपोर्ट- रूपेश कुमार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2018, 11:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...