• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Pegasus Spyware Scandal: CM नीतीश बोले- किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं, पेट्रोल को लेकर दिया ये बयान

Pegasus Spyware Scandal: CM नीतीश बोले- किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं, पेट्रोल को लेकर दिया ये बयान

सीएम नीतीश कुमार ने जासूसी कांड पर बड़ा बयान दिया है.

सीएम नीतीश कुमार ने जासूसी कांड पर बड़ा बयान दिया है.

Pegasus Spyware Scandal: देश में इस समय पेगासस स्पाईवेयर कांड को लेकर हंगामा मचा हुआ है. इस मामले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि यह सब गंदी बात है. किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं है. वहीं, उन्‍होंने पेट्रोल की बढ़ती कीमत पर भी अपनी राय रखी है.

  • Share this:
    पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने जनता दरबार के बाद मीडिया से बातचीत में पेगासस स्पाईवेयर कांड (Pegasus Spyware Scandal) और पेट्रोल (Petrol) को लेकर अपनी बेबाक राय रखी है. उन्होंने पेगासस जासूसी को लेकर कहा कि ये गलत है.किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं है. जबकि सीएम ने पेट्रोल की कीमत 100 रुपये के पार जाने पर कहा कि अब तक उन्‍होंने इस पर गौर नहीं किया है, लेकिन अब आपस में विचार कर इस पर फैसला लेंगे. बता दें कि देश के अधिकांश राज्‍यों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक है. जबकि डीजल भी लगातार ऊंची कीमत पर मिल रहा है.

    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पेगासस स्पाईवेयर कांड पर भी बयान दिया है. उन्होंने कहा कि यह सब गंदी बात है, सब फालतू चीज हैं. किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं है. मेरे हिसाब से बिल्कुल बेकार बात हैं. नई टेक्नॉलोजी का दुरुपयोग हो रहा है. इसका बुरा असर भी पड़ रहा है. कई जगह लोगों को परेशानी हो रही है. काम करना चाहते हैं, उसमें बाधा आती है. कोई गलत काम करता है तो उस पर शुरू से ही कार्रवाई करने का प्रावधान होता है.

    जानें क्‍या है मामला?
    बता दें कि 10 देशों के मीडिया समूह के कई पत्रकारों ने मिलकर एक खुलासा किया है जिसके तहत यह बात सामने आई है कि इजरायली कंपनी एनएसओ के स्पाईवेयर पेगासस के जरिए दुनिया भर की सरकारों ने नेताओं, मंत्रियों, जजों, पत्रकारों और प्रभावशाली लोगों की जासूसी कराई है. इसमें भारत के दो केंद्रीय मंत्रियों, 40 से अधिक पत्रकारों, विपक्ष के तीन नेताओं और एक मौजूदा न्यायाधीश सहित बड़ी संख्या में कारोबारियों और अधिकार कार्यकर्ताओं के 300 से अधिक मोबाइल नंबर हो सकता है कि हैक किए गए हों. यह रिपोर्ट रविवार को सामने आने के बाद हंगामा मचा हुआ है.

    महिला शिक्षा से प्रजनन दर में आई कमी
    शिवसेना के विरोध पर पलटवार करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण पर हमने साफ कहा था. कौन राज्य क्या करेगा, इस पर हमको कुछ नहीं कहना. सबसे ज्यादा असरदार महिला शिक्षा है. जिसके लिए हमने हर पंचायत में प्लस टू स्कूल खोला है. पति-पत्नी में अगर पत्नी मैट्रिक पास है, तो प्रजनन दर कम है. महिला शिक्षा के चलते बिहार में प्रजनन दर चार से तीन फीसदी पर पहुंची है. लड़कियों के पढ़ने पर चिंता है, जिसको चिंता है, वो जाने. शिवसेना किसको छोड़ कर कहां गई थी, अब किसके साथ जानेवाली है?

    किसान आंदोलन पर कही ये बात
    इसके अलावा दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि किसानों से फिर बात होनी चाहिए. कृषि कानून कुछ राज्यों का मामला है. नए कानून को लेकर राज्यों का विरोध है, कई बार बात हुई है. कोरोना के दौर में इस तरह का आंदोलन ठीक बात नहीं है. केंद्र सरकार ने कई बार बात की है, फिर बात कर लें. बिहार में कृषि कानून को लेकर कोई समस्या नहीं है. हमारे यहां इस बार गेंहू की खूब खरीद की गई है, आगे और भी करेंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज