अयोध्या राम मंदिर: बिहार के हर घर से भी एक ईंट और 11 रुपए ले जाएंगे कारसेवक

अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर का मॉडल

अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर का मॉडल

अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) को लेकर जिस दिन से फैसला आया है उस दिन से ही पटना का महावीर मंदिर रोज भक्तों को राम रसोई के तहत भोजन करा रहा है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 16, 2019, 11:21 AM IST
  • Share this:

पटना. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से अयोध्या मंदिर के निर्माण के फैसले आने के बाद पूरे देश में उत्साह है. इसे लेकर बिहार के लोग अब खासे उत्साहित हैं. अयोध्या राम मंदिर (Ayodhya Ram Mandir) को भव्य रूप कैसे दिया जाए इसको लेकर लोगों की तैयारी शुरू हो गई है. 1989 और 1991 में जिस तरह से घर-घर से ईंट अयोध्या गया था लेकिन निर्माण का सपना पूरा नही हुआ था इस बार ये सपना पूरा हो रहा है. जो पुराने कारसेवक रहे हैं वो एक बार फिर से तैयारी कर रहे हैं वहीं पटना (Patna) का महावीर मंदिर भी अपनी तरफ से अयोध्या राम मंदिर को भव्य बनाने में जुटा हुआ है.

कारसेवक कर रहे हैं तैयारी

अयोध्या राम मंदिर के फैसले को लेकर पूरे देश में उत्साह है. राम भक्त इस तैयारी में है कि रामलला का मंदिर इतना भव्य बने. 1989 और 1991 में जो कारसेवक अयोध्या गए थे. वह इस पल को ऐतिहासिक मान रहे हैं. उनका मानना है उनके संघर्ष की जीत हुई है. बिहार से हजारों कारसेवक अयोध्या गए थे और वहां अपने साथ ले गए ईंट को दान किया था. उस समय यह भावना थी अयोध्या राम मंदिर निर्माण में उनका भी योगदान हो. अब कारसेवक उसी तैयारी में है. अब यह अपील कर रहे हैं कि बिहार का हर नागरिक अयोध्या राम मंदिर निर्माण में सहयोग करें. ईट से लेकर पैसे तक की का सहयोग कर सकते है. कारसेवक अरविंद सिंह और कारसेवक राधा मोहन शर्मा इसकी तैयारी में है.



बिहार के हर घर से ईंट और पैसे का सहयोग
कारसेवक अरविंद सिंह कहते है कि वो गांव गांव तक जाएंगे और लोगो से राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग करने को प्रेरित करेंगे. 1989 और 1991 में जिस तरह से घर घर से ईंट अयोध्या गया था. लेकिन निर्माण का सपना पूरा नही हुआ था. इस बार ये सपना पूरा हो रहा है. उसी तरह से इस बार भी ईंट और पैसे इकठ्ठा करेंगे.

10 करोड़ रु देगा पटना महावीर मंदिर

राम मंदिर निर्माण को लेकर पटना का महावीर मंदिर कुछ ज्यादा ही उत्साहित है. पटना महावीर मंदिर के संयोजक किशोर कुणाल बताते हैं कि वह अयोध्या राम मंदिर के निर्माण में महावीर मंदिर के तरफ से दस करोड़ रु देंगे. यह पैसे अयोध्या राम मंदिर न्यास समिति 1 साल से लेकर 5 साल में दिए जाएंगे. महावीर मंदिर के तरफ से जिस दिन से फैसला आया था उस दिन से रोज भक्तों को राम रसोई के तहत भोजन कराया जा रहा है.

न्यास समिति बनने के बाद शुरू होगा अभियान

राम मंदिर निर्माण को लेकर पूरे देश राम भक्तों की राम भक्तों में उत्साह है. अब सभी चाहते हैं कि राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द हो जाए. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इसे और भव्य बनाने की योजना है. 2 दिन पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों से अपील की थी कि कम से कम ₹11 और एक इस निर्माण में एक ईंट का सहयोग करें. अब इसी के तर्ज पर बिहार के कारसेवक भी चाहते हैं कि हर घर से एक ईंट और कम से कम ₹11 इस निर्माण में भेजा जाए. हालांकि सभी इंतजार कर रहे हैं अयोध्या राम मंदिर न्यास समिति का गठन हो जाए तो यह काम भी शुरू हो जाए.

ये भी पढ़ें - CAA बवालः पटना में आगजनी, दो पुलिस पोस्ट को लगाई आग, कई गाड़ियों को भी फूंका

ये भी पढ़ें - आशिक मिजाज दारोगा गिरफ्तार, ड्यूटी के लिए महिला सिपाही से मांगता था जिस्म

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज