लाइव टीवी

बिहार CAA और NRC के विरोध में बंद के साथ समर्थन में भी सड़क पर उतरे लोग
Patna News in Hindi

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: December 19, 2019, 9:47 PM IST
बिहार CAA और NRC के विरोध में बंद के साथ समर्थन में भी सड़क पर उतरे लोग
पटना में सीएए के समर्थन में लोगों ने सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन किया.

बिहार (Bihar) में गुरुवार को नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act) के विरोध में जहां विपक्षी पार्टियों ने बंद (Bihar Bandh) का आह्वान किया था, वहीं कुछ संगठन सीएए के समर्थन में भी सड़कों पर उतरे. इसमें भाजपा (BJP) नेता संजय पासवान (Sanjay Paswan) भी शामिल हुए.

  • Share this:
पटना. CAA और NRC के विरोध में वाम दलों के बिहार बंद (Bihar Bandh) का मिला-जुला असर राज्य में दिखा. निजी स्कूलों ने ऐहतियातन विद्यालय बंद रखने की घोषणा की थी, वहीं सभी सरकारी स्कूल खुले रहे. पटना का डाकबंगला रोड जहां प्रदर्शनकारियों का जमावड़ा लगता है, वहां भी दोपहर होते-होते स्थिति सामान्य हो गई. इधर, एक तरफ जहां नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act) के विरोध में बिहार बंद को महागठबंधन के घटक दल हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा, रालोसपा, कांग्रेस और वीआईपी ने समर्थन दिया था, वहीं जन अधिकार पार्टी भी सहयोग कर रही थी. बंद के दौरान जब राजधानी समेत कई जगहों पर विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा तोड़फोड़ और दुकान बंद करने की खबरें आने लगीं, तो पटना में एनआरसी और सीएए के समर्थन में भी लोग सड़कों पर उतर आए.

कबीर पंथ ने किया समर्थन
बिहार बंद के दौरान उत्पात होते देख, एनआरसी और सीएए के समर्थन में लोग सड़क पर उतर आए. भाजपा विधान पार्षद डॉ. संजय पासवान (Sanjay Paswan) के नेतृत्व में कबीर पंथ के लोगों ने एनआरसी लागू करने की मांग की. CAA और NRC के समर्थन में उतरे इन लोगों के हाथ में जो तख्तियां थीं, उनमें लिखा था 'बंद समर्थक दलित और गरीब विरोधी हैं.' न्यूज़ 18 से बातचीत में भाजपा पार्षद ने कहा कि मुसलमानों को कांग्रेस, वाम दल और राजद के साथ छोटी-छोटी पार्टियां बरगला रही हैं. ये गरीब और दलित विरोधी लोग मुसलमानों को उकसाने का काम कर रहे हैं. जबकि हकीकत यह है कि CAA और NRC से भारतीय मुसलमानों को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला. बल्कि जिन घुसपैठियों की वजह से मुसलमान बदनाम होते हैं, उससे उन्हें मुक्ति मिलेगी.

भाजपा के विधान पार्षद संजय पासवान ने सीएए के समर्थन में हुए प्रदर्शन में हिस्सा लिया.




मुसलमानों को बताएंगे कानून का फायदा


भाजपा पार्षद संजय पासवान ने कहा कि वो कबीर पंथ के लोगों के साथ मुसलमानों के बीच जाकर उन्हें इस कानून के लाभ के बारे में बताएंगे. वे बताएंगे कि CAA और NRC से मुसलमानों को कौन डरा रहा है और ये कानून किस तरह से भारत की एकता को बनाए रखने में सहायक सिद्ध होगा. उन्होंने यह भी कहा कि मुसलमानों में यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि किसी मुस्लिम को भारत की नागरिकता नहीं मिलेगी. यदि ऐसा होता तो सीएए लागू होने के बाद कैसे भारत सरकार ने बुधवार को एक पीड़ित पाकिस्तानी महिला को भारतीय नागरिकता प्रदान की. उन्होंने जोर देकर कहा कि भारतीय मुसलमानों को यह समझने की जरूरत है कि CAA और NRC से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ने वाला.

ये भी पढ़ें -

बिहार: CAA और NRC के खिलाफ भारत बंद का मिलाजुला असर, भोजपुरी गानों पर नाचे जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता

 

PHED मंत्री ने की घोषणा- बिहार के इन जिलों में अब लोगों को नहीं पीना पड़ेगा फ्लोराईड वाला पानी
First published: December 19, 2019, 9:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading