Home /News /bihar /

phulwari sharif terror module nia and ed may takeover case will investigate ghazwa e hind conspiracy brvj

फुलवारी शरीफ टेरर मॉड्यूल : NIA और ED टेकओवर कर सकती है केस, गजवा-ए-हिंद साजिश की करेगी जांच

पटना टेरर कनेक्शन की जांच एनआईए कर सकती है.

पटना टेरर कनेक्शन की जांच एनआईए कर सकती है.

Bihar News: पटना में कार्यरत IB के सूत्रों के मुताबिक "साल 2023 में करेंगे जिहाद" इस ऑपरेशन के बारे में पूछताछ की जा रही है. बता दें कि ये जानकारियां तहरीक -ए- लब्बेक नाम से बनाए गए व्हाट्सएप ग्रुप से मिली हैं. ऐसी ही कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी मिली हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. फुलवारी शरीफ टेरर मॉड्यूल मामले में बड़ी खबर सामने आ रही है. सूत्रों से खबर है कि इस मामले को जल्द ही दो प्रमुख केन्द्रीय जांच एजेंसी टेकओवर कर सकती है. केंद्रीय जांच एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक जांच एजेंसी NIA और प्रवर्तन निदेशालय (ED ) जल्द ही इस केस को टेकओवर कर सकती है. बता दें कि आतंकी संगठन गजवा-ए-हिन्द से जुड़े स्लीपर सेल मरगूब से IB के अधिकारी और पटना पुलिस द्वारा पूछताछ हो रही है. मरगूब से “इलिसा “नाम की लड़की के बारे में भी पूछताछ की जा रही है.

पटना में कार्यरत IB के सूत्रों के मुताबिक “साल 2023 में करेंगे जिहाद” इस ऑपरेशन के बारे में पूछताछ की जा रही है. बता दें कि ये जानकारियां तहरीक -ए- लब्बेक नाम से बनाए गए व्हाट्सएप ग्रुप से मिली हैं. ऐसी ही कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी मिली हैं. यह भी पता लगा है कि तहरीक -ए- लब्बेक नाम से बनाया गया व्हाट्सएप ग्रुप पाकिस्तानी नम्बर से बनाया गया था.

गौरतलब है कि फुलवारी शरीफ आतंकी मामले में पुलिस ने गजवा ए हिंद ग्रुप बनाकर पाकिस्तान के कई लोगों को ग्रुप में जोड़ने के आरोप में फुलवारी शरीफ से इलियास उर्फ ताहिर उर्फ मगरूब नाम के एक शख्स को शुक्रवार को गिरफ्तार किया था. 3 नाम वाला यह शख्स व्हाट्सएप और मैसेंजर ग्रुप के जरिए पाकिस्तान और बंगलादेश बात करता था.

बता दें कि बुधवार को पटना के फुलवारी शरीफ से दो व्यक्ति अतहर परवेज और जलालुद्दीन को पहले गिरफ्तार किया गया था. पीएफआई और एसडीपीआई के ये सक्रिय सदस्य भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की योजना पर काम कर रहे थे. इनका प्लान डीकोड होने के बाद खलबली मच गई है.

इसके साथ ही मामले में प्राथमिकी भी दर्ज कर ली गई है. एफआईआर में 26 लोगों को नामजद बनाया गया है. प्राथमिकी के अनुसार तामिलनाडु और केरल से 12 लोग आये थे जो लोगों को शारीरिक प्रशिक्षण के साथ ही तलवारबाजी की भी ट्रेनिंग दे रहे थे.

Tags: Bihar News, NIA, PFI, Trending news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर