होम /न्यूज /बिहार /बिहार: क्या पीडीएस दुकानों से दिए जा रहे प्लास्टिक के चावल? सामने आया सच

बिहार: क्या पीडीएस दुकानों से दिए जा रहे प्लास्टिक के चावल? सामने आया सच

मसौढ़ी में नकली प्लास्टिक चावल की अफवाह से लोगो में आक्रोश.

मसौढ़ी में नकली प्लास्टिक चावल की अफवाह से लोगो में आक्रोश.

Bihar News: आम जनजीवन में नकली चीजों की आवक इतनी अधिक हो गई है कि लोग कभी कभार असली को भी नकली मानने लग जाते हैं. खास त ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मसौढ़ी में प्लास्टिक मिला चावल वितरित करने का आरोप.
राशन कार्डधारियों में प्लास्टिक चावल को लेकर आक्रोश.
शासन ने कहा, प्रोटीनयुक्त फोर्टिफाइड है PDS का चावल.

पटना. मसौढ़ी में जन वितरण प्रणाली द्वारा राशन कार्डधारियों को जो चावल वितरण किया गया है उसे प्लास्टिक का बताया जा रहा है. लोगों में चावल को लेकर संशय है और डर इस बात का है की प्लास्टिक चावल खाने से किसी तरह की बीमारी तो नहीं होगी. कार्डधारियों का कहना है कि वितरण किए चावल में प्लास्टिक चावल मिला हुआ है जो बनाने पर गलता नहीं है. इससे बीमारी का खतरा लगता है.

कुमारी मृदुला का कहना है कि यह है आम चावल की तरह नहीं है. जब इसे भूजा बनाया जाता है तो यह फूटता भी नहीं है और जस का तस रह जाता है. इसके साथ ही चावल को कितना भी उबाला जाए मगर गलता नहीं है. वहीं उज्जवल कुमार का कहना है कि यह चावल आम चावल से काफी अलग दिखता है. देखने थोड़ा बड़ा चावल दिखाई देता है और यह गलता भी नहीं है. जन वितरण प्रणाली से यह वितरित किया जा रहा है. इस पर हम अनुमंडल अधिकारी और जिला अधिकारी से जांच की मांग भी करते हैं.

इस संबंध में आपूर्ति पदाधिकारी मसौढ़ी मुकेश कुमार का कहना है कि इस तरह के चावल में प्लास्टिक चावल नहीं मिला हुआ है, बल्कि एक प्रतिशत प्रोटीनयुक्त फोर्टिफाइड चावल मिला हुआ है. यह स्वास्थ के लाभदायक है और कुपोषण, एनिमिया में फायदा होता है.

आपूर्ति पदाधिकारी ने कहा कि उपभोक्ताओं में संशय बरकरार है इसके लिए उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. बहरहाल, सरकारी चावल में अधिकारी के मुताबिक प्रोटीन मिलाया हुआ चावल है; जबकि इसके प्रति किसी तरह के पहले से जागरूकता नहीं की गई तो उपभोक्ता नाराज और आशंकित तो होंगे ही.

Tags: Bihar News, Bihar News in hindi, Danapur news, PATNA NEWS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें