होम /न्यूज /बिहार /पटनाः PMCH की सुरक्षा में चूक, इमरजेंसी वार्ड में ब्लड सैंपल लेते हुए दलाल पकड़ा गया

पटनाः PMCH की सुरक्षा में चूक, इमरजेंसी वार्ड में ब्लड सैंपल लेते हुए दलाल पकड़ा गया

पीएमसीएच में पकड़ा गया दलाल

पीएमसीएच में पकड़ा गया दलाल

पीएमसीएच (PMCH ) में भर्ती मरीजों को ऐसे सरकार के तरफ से इलाज के साथ-साथ मुफ्त जांच की सुविधा दी गयी है, लेकिन भोले-भ ...अधिक पढ़ें

पटना. बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच (PMCH ) में एक बार फिर सुरक्षा पर सवाल उठने लगा है. यहां टाटा वार्ड (Tata Ward) इमरजेंसी में भर्ती मरीजों से एक दलाल जांच के नाम पर पैसे ऐंठ रहा था, लेकिन वह पकड़ा गया. दरअसल  भनक लगते ही इमरजेंसी इंचार्ज डॉ अभिजीत ने अस्पताल कर्मियों के साथ ऐन वक्त पर धावा बोला और पैसे लेते रंगे हाथों दलाल को पकड़ लिया. पकड़ा गया दलाल अपना नाम अंकुश बता रहा है जो कि प्रतिष्टित डॉ लाल पैथ का कर्मी है.

मिली जानकारी के अनुसार वह सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर सुबह में ही वार्ड में चुपके से प्रवेश कर गया था और जांच के नाम पर एक-एक कर चार मरीजों से मोटी रकम की वसूली कर चुका था. इमरजेंसी इंचार्ज ने पकड़े जाने के बाद दलाल को पीरबहोर पुलिस को सुपुर्द कर दिया है जहां पुलिस लगातार छानबीन में जुटी है. पुलिस ने डॉ. लाल पैथ के अधिकारियों को भी हाजिर होने का आदेश दिया है. दलाल के पास से 200 से ज्यादा सैम्पल जांच के भाईल बरामद किए गए हैं जो कि विभिन्न सरकारी अस्पतालों को निशाना बनाकर वहां के मरीजों को निजी लैब में जांच के नाम पर गुमराह करता है.

बता दें कि पीएमसीएच में भर्ती मरीजों को ऐसे सरकार के तरफ से इलाज के साथ-साथ मुफ्त जांच की सुविधा दी गयी है, लेकिन भोले भाले मरीजों को सही जानकारी नहीं होने की वजह से आए दिन दलाल गुमराह कर ठगी का शिकार बनाते हैं.

जानकारी के अनुसार मरीजों के परिजनों से भी मोटी रकम वसूली जाती थी. जांच के नाम पर किसी से पंद्रह ₹100 तो किसी से ₹600 लिए थे. सूत्रों के अनुसार दलाल आए दिन जिन मरीजों से वसूली करते हैं बताया जा रहा है कि पीएमसीएच में ऐसी घटनाएं आम हो गई हैं.

बताया जा रहा है कि दलालों पर प्रतिबंध लगाने के लिए कई बार योजनाएं बनी लेकिन उसका कोई लाभ नहीं मिला. अधीक्षक और प्राचार्य की तरफ से कोई कठोर कार्रवाई नहीं की गई है. सूत्रों की मानें तो यहां के कर्मियों के सहयोग से दलाल अस्पताल में प्रवेश करते हैं और गरीब परिजनों का आर्थिक शोषण करते हैं.

इस घटना के बाद अस्पताल में तैनात सुरक्षा गार्ड पर भी सवाल उठ रहा है, क्योंकि हाल में ही वार्ड से बच्चा चोरी को भी अंजाम दिया गया जिसके बाद हड़कम्प मच गया था. वहीं इस बाबत अस्पताल प्रशासन की मानें तो सीसीटीवी कैमरे से कड़ी निगरानी रखी जा रही है, लेकिन मरीज के वेश में दलाल इंट्री लेते हैं ऐसे में चुनौती जरूर है, लेकिन सख्ती बरती जा रही है.

Tags: Bihar latest news, PMCH, PMCH hospital

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें