सेक्स रैकेट केस: अंडरग्राउंड RJD विधायक के खिलाफ अरेस्ट वारंट की अर्जी दायर

News18 Bihar
Updated: September 12, 2019, 10:31 AM IST
सेक्स रैकेट केस: अंडरग्राउंड RJD विधायक के खिलाफ अरेस्ट वारंट की अर्जी दायर
सेक्स रैकेट में फंसे आरजेडी विधायक गिरफ्तारी के डर से भूमिगत हो गए हैं. (Demo Pic)

विधायक अरुण यादव की गिरफ्तारी को वारंट जारी करने के लिए पुलिस ने आरा सिविल कोर्ट में अर्जी दाखिल की है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 12, 2019, 10:31 AM IST
  • Share this:
पटना. बीते जुलाई महीने में बिहार में एक बड़े सेक्स रैकेट (Sex racket) का पर्दाफाश हुआ था. इसके तार पटना से लेकर आरा (Patna To Ara) तक जुड़े हैं और इसमें कई रसूखदारों के भी नाम सामने आए हैं. इसी मामले में नाबालिग पीड़िता (Minor Victim) ने अपने 164 के बयान में एक विधायक का नाम लिया था. इसी सिलसिले में अब बुधवार को आरजेडी के एमएलए अरुण यादव  (RJD MLA Arun Yadav) पटना के हार्डिंग रोड स्थित आवास पर भोजपुर पुलिस ने छापेमारी की. रात करीब 8 बजे रेड करने वाली इस टीम के साथ एफएसएल (FSL) की टीम भी थी. बताया जा रहा है कि ये रेड महिला थाने की पुलिस ने की थी.

अरेस्ट वारंट जारी करने की अर्जी दायर
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तारी नहीं होने पर आगे की कानूनी प्रक्रिया शुरू की जाएगी. इस बीच विधायक अरुण यादव की गिरफ्तारी को वारंट जारी करने के लिए पुलिस ने आरा सिविल कोर्ट में अर्जी दाखिल की है. कोर्ट ने मामले में डायरी समर्पित करने का आदेश दिया है.

बिना रेड के लौटी पुलिस

पुलिस सूत्रों की मानें तो फ्लैट पर मौजूद लोगों ने पुलिस और एफएसएल से सर्च वारंट मांगा. इस पर पुलिस बाहर ही आधे घंटे तक मौजूद रही और उसके बाद लौट गई. जानकारी के अनुसार विधायक को मिले चार अंगरक्षकों को भोजपुर एसपी सुशील कुमार के आदेश पर लाइन वापस कर दिया गया है.

164 के बयान पर गिरफ्तारी वारंट की अर्जी
गौरतलब है कि आरा में बुधवार को केस के आइओ चन्द्रशेखर गुप्ता ने आरा सिविल कोर्ट में पीड़िता के दोबारा दर्ज कराए गए 164 के बयान का हवाला देते हुए अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम) सह पॉक्सो कोर्ट के विशेष न्यायाधीश आरके सिंह की अदालत में गिरफ्तारी का वारंट निर्गत करने के लिए अर्जी दी है.
Loading...

अंडरग्राउंड हो गए आरजेडी विधायक
पुलिस के अनुसार कोर्ट से वारंट निर्गत होने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी. वहीं विधायक भूमिगत हो गए हैं. बता दें कि सेक्स रैकेट की संचालिका अनीता, उसके दलाल संजीत और आरोपी इंजीनियर अमरेश के अलावा सेक्स रैकेट के संचालक संजय यादव उर्फ जीजा को पुलिस जेल भेज चुकी है.

नाबालिग पीड़ित ने लगाया था आरोप
बीते छह सितंबर को पीड़ित किशोरी ने आरा कोर्ट में दोबारा 164 का बयान दर्ज कराया गया था. पीड़िता ने कहा है कि पटना स्थित विधायक के आवास पर उसके साथ गंदा काम किया गया था.

इनपुट- संजय कुमार

ये भी पढ़ें- 


बिहार: ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले पुलिसकर्मियों के वेतन से वसूली जाएगी जुर्माने की राशि




मॉब लिंचिंग: बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने युवक को जमकर पीटा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 8:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...