CM नीतीश के करीबी बोले- RSS की नीयत ठीक नहीं, बंद हो आरक्षण पर चर्चा

जेडीयू नेता और बिहार सरकार में मंत्री श्‍याम रजक ने आरएसएस को आरक्षण पर चर्चा बंद करने की नसीहत देते हुए कहा कि इसपर जब भी चर्चा की बात होती है, देश का दलित शंकाओं से घिर जाता है.

News18 Bihar
Updated: August 21, 2019, 10:26 AM IST
CM नीतीश के करीबी बोले- RSS की नीयत ठीक नहीं, बंद हो आरक्षण पर चर्चा
नीतीश सरकार में जेडीयू कोटे से मंत्री श्याम रजक ने आरक्षण को लेकर आरएसएस की नीयत पर सवाल उठाए हैं.
News18 Bihar
Updated: August 21, 2019, 10:26 AM IST
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) के प्रमुख मोहन भागवत (Mohan bhagwat) के बयान पर सियासी बयानबाजी जारी है. बीजेपी (BJP) के विरोधी दलों के साथ अब सहयोगी दलों ने भी संघ प्रमुख को निशाने पर लेना शुरू कर दिया है. जेडीयू के नेता और बिहार सरकार में मंत्री श्याम रजक (Shyam Rajak) ने आरएसएस (RSS) की नीयत पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जिस संगठन के लोग आरक्षण की बात करते हैं, वे पहले यह बताएं कि उसमें कितने लोग आरक्षित हैं? जब नीयत ही साफ नहीं है तो इस पर चर्चा बंद कीजिए.

जेडीयू नेता और बिहार के मंत्री ने आरएसएस के लोगों को आरक्षण पर चर्चा बंद करने की नसीहत देते हुए कहा कि आरक्षण पर जब भी चर्चा की बात होती है देश का दलित शंका में आ जाता है. इसलिए इस पर लोगों को किसी भी तरह की चर्चा बंद कर देनी चाहिए.

RSS के भीतर रिजर्वेशन पर उठाए सवाल
श्‍याम रजक ने सवाल उठाते हुए कहा कि आरक्षण दलितों के लिए था, लेकिन फायदा किन्हें मिल रहा है? श्याम रजक ने कहा कि जो संगठन के लोग आरक्षण की बात करते हैं, उस संगठन में कितने लोग आरक्षित (वर्ग से) हैं? यह भी तो साफ़ कीजिए. जब नीयत ही साफ नहीं है तो इस तरह की चर्चा बंद कीजिए.

बीजेपी का जेडीयू पर पलटवार
श्याम रजक के बयान पर बीजेपी ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि आरएसएस को किसी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. बीजेपी नेता और विधायक नितिन नवीन ने कहा कि आरएसएस देश के विकास के लिए समाज के हर वर्ग की ख़ुशी के लिए काम करता है. इसलिए उसके बारे में कोई कुछ भी बोले कोई फर्क नहीं पड़ता है. कोई क्या बोलता है, इससे कोई मतलब नहीं.

RJD-JDU के एक सुर
Loading...

बता दें कि मोहन भागवत के बयान पर जेडीयू और आरजेडी के सुर एक जैसे हैं और दोनों ही दल मोहन भागवत पर हमलावर हैं. मंगलवार को पटना लौटने के बाद आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मोहन भागवत के बयान पर कहा कि देश में आरक्षण खत्म करने की साजिश की जा रही है.

विधानसभा चुनाव में आरक्षण बना था मुद्दा
तेजस्वी यादव ने कहा कि हमने पहले भी आरएसएस के एजेंडे का विरोध किया है. उन्होंने कहा कि आरक्षण के साथ जो खेलेगा उसके लिए खतरा होगा. गौरतलब है कि आरक्षण वही मुद्दा है, जिसने वर्ष 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में बड़ा असर डाला था और इसी आधार पर आरजेडी की सत्ता में वापसी हुई थी.

इनपुट- आनंद अमृतराज

ये भी पढ़ें- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 10:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...