Bihar Politics: पीएम नरेंद्र मोदी के 'हनुमान' की लोजपा से बेदखली और भाजपा का मौन! आखिर माजरा क्या है?

चिराग पासवान अक्सर खुद को पीएम नरेंद्र मोदी का हनुमान कहते रहे हैं.

LJP's political controversy: भाजपा के मौन के पीछे की एक बड़ी वजह राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का जेल से बाहर आना भी है. माना जा रहा है कि वह बिहार में महागठबंधन की सरकार बनाने की लगातार कवायद कर रहे हैं.

  • Share this:
पटना. लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संदर्भ में बिहार विधानसभा चुनाव-2020 के कैंपेन पर गौर करें तो दो बातें स्पष्ट थीं, एक चिराग पासवान (Chirag Paswan) का सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को डायरेक्ट टारगेट करना, दूसरा खुद को बार-बार पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का हनुमान बताना. एनडीए का हिस्सा होते हुए भी चिराग पासवान का यह कहना कि इस बार भाजपा-लोजपा की सरकार बनेगी और नीतीश कुमार की जदयू समाप्त हो जाएगी. इसके लिए लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने नीति भी बनाई और जदयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार भी उतारे. इसके साथ ही स्वयं को पीएम मोदी का सबसे खास बताते हुए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रत्‍याशियों को वोट देने की भी अपील की थी.

यही वजह रही कि जेडीयू महज 43 सीटों के साथ बिहार विधानसभा में तीसरी बड़ी पार्टी बनकर रह गई और भाजपा 74 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर आ गई. हालांकि, इसमें लोजपा को भारी नुकसान हुआ और पार्टी को महज 1 सीट पर ही जीत मिली. बावजूद इसके यह आम धारणा तो बन ही गई कि चिराग ने भाजपा को फायदा पहुंचाया और जदयू का नुकसान किया. जाहिर है एनडीए में नीतीश कुमार का पहले वाला कद नहीं रहा और चुनाव परिणाम के बाद से ही चिराग पासवान को उन्होंने अपने निशाने पर ले लिया था. हालांकि, बीजेपी चिराग पासवान के प्रति सहानुभूति रखती रही.

भाजपा के 'मौन' पर सवाल
अब जब अंदरुनी विवाद की वजह से चिराग पासवान को अपनी ही पार्टी से बेदखल होने की नौबत आ गई तो माना जा रहा है कि इसके पीछे सीएम नीतीश कुमार का ही दिमाग काम कर रहा था. हालांकि, सबसे चौंकाने वाली बात यह है इस पूरे प्रकरण पर भाजपा की तरफ से कोई खास प्रतिक्रिया नहीं आई है. ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर पीएम मोदी के 'हनुमान' के साथ इतना कुछ हो रहा है फिर भी भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने मौन क्यों साध रखा है? क्या लोजपा में बिखराव के बाद भाजपा को चिराग पासवान की अब जरूरत नहीं रही?

आखिर चुप्पी का सबब है क्या?

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.