कम होगा पटना में प्रदूषण, CNG के दो स्टेशन शुरू

News18 Bihar
Updated: September 4, 2019, 6:44 PM IST
कम होगा पटना में प्रदूषण, CNG के दो स्टेशन शुरू
बिहार के परिवहन सचिव संजय अग्रवाल

परिवहन सचिव ने बताया कि परिवहन के क्षेत्र में बिहार में विश्व स्तर की सुविधाएं देना हमारा उद्देश्य है. एग्रीगेटर नीति बनाने में बिहार तीसरा अग्रणी राज्य है.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में सीएनजी (Compressed Natural Gas/
कंप्रेस्ड नेचुरल गैस) सेवा शुरू हो गई है. सीएनजी गाड़ियों का उद्घाटन करते हुए परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने बताया कि पेट्रोल गाड़ियों की तुलना में सीएनजी गाड़ियां लगभग आधी लागत में चलेगी. उन्होंने कहा कि पटना में दो सीएनजी पंप (CNG Stations) संचालित हैं. इस महीने के अंत तक तीन और पंप की सेवा शुरू हो जाएगी. सीएनजी पंप की संख्या इस साल के अंत तक बढ़कर 11 हो जाएगी.

परिवहन सचिव ने बताया कि परिवहन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल ने कहा कि सीएनजी वाहन न केवल प्रदूषण स्तर को 90 प्रतिशत तक कम कर देते हैं बल्कि बेहतर माईलेज भी देते हैं. संजय ने बताया कि पेट्रोल वाहनों को सीएनजी में परिवर्तित करने के लिए सात एजेंसियों को नामित किया गया है. उन्होंने कहा कि पेट्रोल चालित वाहन पर जहां लगभग छह रुपए प्रति किलोमीटर औसत खर्च होता है वहीं सीएनजी चालित वाहन पर लगभग 3 से 3.50 रुपए खर्च आएगा.

एग्रीगेटर नीति बनाने में बिहार तीसरा अग्रणी राज्य

संजय अग्रवाल ने बताया कि परिवहन के क्षेत्र में बिहार में विश्व स्तर की सुविधाएं देना हमारा उद्देश्य है. एग्रीगेटर नीति बनाने में बिहार तीसरा अग्रणी राज्य है. इलेक्ट्रिक गाड़ियों को भी प्रोत्साहित किया जाएगा. अग्रवाल ने कहा कि सीएनजी गाड़ियों से बिहार की पूरी परिवहन व्यवस्था बदल जाएगी. इससे न सिर्फ प्रदूषण कम होगा बल्कि गाड़ियों में होने वाले खर्च में भी कमी आ जाएगी.

वहीं, बुधवार को सूचना भवन में परिवहन मंत्री संतोष निराला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर परिवहन विभाग की उपलब्धियों को बताया. परिवहन मंत्री ने बताया कि सड़क सुरक्षा बड़ी चुनौती है. इसके लिए विभाग लगातार बैठकें कर रहा है. परिवहन में रोजगार के साथ-साथ नए नियमों पर भी ध्यान दिया जा रहा है. निराला ने बताया कि पटना शहर में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को रोकने के लिए वाहनों में सीएनजी के इस्तेमाल के अलावा राज्य में ई- वाहन के उपयोग को को बढ़ावा दिया जा रहा है.

ई-वाहनों के पंजीकरण शुल्क पर सब्सिडी
Loading...

संजय ने कहा कि ई-वाहनों के पंजीकरण शुल्क पर राज्य सरकार द्वारा 50 फीसदी टैक्स सब्सिडी दी जा रही है. उन्होंने बताया कि राजधानी पटना और अन्य प्रमुख शहरों में केंद्र सरकार की ईईएसएल कंपनी की सहायता से इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए जाएंगे ताकि लोग अपने वाहनों को आसानी से चार्ज कर सकें.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें- 

लुधियाना: GNE कॉलेज में बिहारी छात्रों से मारपीट, CM नीतीश से मांगी सुरक्षा

बेपटरी हुई मालगाड़ी, पटना-मुगलसराय रूट बाधित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 4:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...