RJD के 24वें स्थापना दिवस पर पटना में लगा अनोखा पोस्टर, तेजस्वी की संपत्ति का खुलासा !

पटना की सडकों पर लगा राजद का पोस्टर
पटना की सडकों पर लगा राजद का पोस्टर

जेडीयू नेता और मंत्री नीरज कुमार कहते हैं कि पता नहीं किसने ये पोस्टर लगाया है , लेकिन जिसने भी पोस्टर लगाया है उसमें लिखी तमाम बातें सही हैं. अगर पोस्टर में लिखी बातें गलत हैं तो तेजस्वी यादव जनता के बीच जाकर सफाई दें.

  • Share this:
पटना. रविवार को बिहार में राजद (RJD) अपने स्थापना दिवस की 24 वीं वर्षगांठ मनाने की तैयारी कर रहा है लेकिन ठीक इसके पहले पटना की सड़कों पर लगा एक पोस्टर (RJD Poster) लोगों के बीच चर्चा का केंद्र बना हुआ है. पोस्टर में राजद का नया नामकरण भी किया गया है. राष्ट्रीय जनता दल की जगह राष्ट्रीय जालसाज दल बताया गया है साथ ही ये भी लिखा गया है की जालसाजी के 24 साल पूरा होने पर बधाई.

निशाने पर तेजस्वी

पोस्टर में खासकर तेजस्वी यादव पर निशाना साधा गया है और लिखा गया है 24 वें स्थापना दिवस पर धन कुबेर फेल्सवी के 24 संपत्ति का उद्भेभदन. इस पोस्टर में ये भी लिखा गया है कि ये तो अभी झांकी है फिल्म अभी बाकी है लेकिन पोस्टर का सबसे बड़ा आकर्षण बन गया है 24 जगहों पर संपत्ति विवरण की जानकारी और दावा किया गया है की इन तमाम जमीनों के मालिक तेजस्वी यादव हैं.



पटना सहित पूरे बिहार की जमीनों का जिक्र
कुछ संपत्ति की जानकारी इस तरह है. दानापुर— 45 डिस्मिल, गोला रोड -13 डिसमिल, चितकोहरा- 14 डिस्मिल इत्यादि. दरअसल पटना में पोस्टर लगा कर लालू परिवार पर हमला बोलने का यह पहला मौका नहीं है लेकिन जिस तरह के पोस्टर लालू यादव के 73वें जन्मदिन के मौके पर पटना की सड़कों पर लगा कर लालू यादव की 73 संपत्ति की जानकारी दी गई थी वैसी ही जानकारी इस बार राजद के 24 वें स्थापना दिवस के मौके पर दिया गया है.

जेडीयू ने ली चुटकी

इस पोस्टर के बारे में जेडीयू नेता और मंत्री नीरज कुमार कहते हैं कि पता नहीं किसने ये पोस्टर लगाया है , लेकिन जिसने भी पोस्टर लगाया है उसमें लिखी तमाम बातें सही हैं. अगर पोस्टर में लिखी बातें गलत हैं तो तेजस्वी यादव जनता के बीच जाकर सफाई दे. वहीं राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी कहते हैं कि पोस्टर लिख कर टांगें या पूरे बिहार में झूठा प्रचार करें, जनता सब जानती है की ये सब किसके इशारे पर हो रहा है. लालू जी और उनका परिवार गरीबों और मजलूमों की लड़ाई लड़ता आया है. इसलिए ये परिवार बहुत लोगों की आंखों में चुभ रहा है और उनको पोस्टर के जरिए बदनाम करने की कोशिश की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज