लाइव टीवी

प्रशांत किशोर ने 'बात बिहार की' कैंपेन चलाने का किया ऐलान, 10 लाख युवाओं को जोड़ने का है प्‍लान
Patna News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 18, 2020, 12:35 PM IST
प्रशांत किशोर ने 'बात बिहार की' कैंपेन चलाने का किया ऐलान, 10 लाख युवाओं को जोड़ने का है प्‍लान
जेडीयू से किनारे करने के बाद प्रशांत किशोर ने गैर राजनीतिक विकल्प तैयार करने की बात कही है. (फाइल फोटो)

लंबे समय तक बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के साथ रहने वाले प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) अब अपनी अलग राह चुन चुके हैं. 20 फरवरी से प्रशांत किशोर उर्फ पीके प्रदेश के युवाओं को जोड़ने के लिए 'बात बिहार की' नाम से एक कैंपेन की शुरुआत करने जा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2020, 12:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लंबे समय तक बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के साथ रहने वाले प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) अब अपनी अलग राह चुन चुके हैं. 20 फरवरी से प्रशांत किशोर उर्फ पीके प्रदेश के युवाओं को जोड़ने के लिए 'बात बिहार की' नाम से एक कैंपेन की शुरुआत करने जा रहे हैं. प्रशांत किशोर के अनुसार, इस कैंपेन में वे 10 लाख युवाओं को जोडे़ेंगे. प्रशांत किशोर ने पटना में आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीएम नीतीश पर कई आरोप भी मढ़ें. मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा कि वो किसी को हराने या बिहार में गठबंधन बनाने के लिए नहीं आए हैं.

'बिहार को आगे बढ़ाने के लिए करेंगे काम'
प्रशांत किशोर ने कहा कि वे बिहार में पोलिटिकल वर्कर बन कर आए हैं. उन्होंने कहा कि वे बिहार को देश के अव्वल राज्यों में शुमार करने के लिए काम करते रहेंगे. चुनावी रणनीतिकार के तौर पर राजनीतिक दलों के साथ काम करने वाले प्रशांत किशोर 29 जनवरी को जेडीयू से निष्कासित होने के बाद पहली बार पटना पहुंचे थे.

प्रशांत किशोर, बिहार की राजनीति, बात बिहार की, बिहार न्यूज, चुनावी कैंपेन, prashant kishor, bihar politics, baat bihar kii, bihar news, election campaign
पीके को नीतीश की जेडीयू में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया था.




'नीतीश के साथ नहीं रहा राजनीतिक संबंधों का नाता'
इस दौरान उन्होंने सीएम नीतीश कुमार पर भी अपनी राय रखी. पीके ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार के साथ अब राजनीतिक संबंधों का नाता नहीं है. पीके ने नीतीश के बारे में कहा कि उन्होंने मुझे बेटे की तरह रखा. उन्होंने नीतीश कुमार के सम्मान की बात भी कही.

विकास के कई मानकों पर बिहार पिछड़ा
इस दौरान उन्होंने बिहार के विकास के कई मानकों पर आज भी दूसरे राज्यों के मुक़ाबले काफ़ी पिछड़े होने की बात भी कही. उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार के द्वारा बिहार में साइकिल और पोशाक बांटा गया, लेकिन बिहार में शिक्षा की गुणवत्ता नहीं सुधरी है.

प्रशांत किशोर, बिहार की राजनीति, बात बिहार की, बिहार न्यूज, चुनावी कैंपेन, prashant kishor, bihar politics, baat bihar kii, bihar news, election campaign
बिहार के सीएम नीतीश पर पीके ने तल्ख टिप्पणी की. (फाइल फोटो)


'राजनीति में कॉम्प्रोमाइज करना पड़ता है'
पीके ने सीएम नीतीश कुमार पर टिप्पणी करते हुए कहा कि राजनीति में थोड़ा कॉम्प्रोमाइज (समझौता) करना पड़ता है. उन्होंने कहा कि लेकिन अगर बिहार का विकास हो रहा है तो झुकने में कोई हर्ज नही है, लेकिन क्या बिहार में विकास हो गया है? क्या बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिला?

'मानता हूं बिहार का विकास हुआ, लेकिन...'
पीके ने कहा कि वे मानते हैं कि बिहार का विकास हुआ है. लेकिन विकास की गति और आयाम ऐसे नहीं है जिससे यह लगे कि बिहार में आमूलचूल परिवर्तन हुआ हो.

ये भी पढ़ें: 

प्रशांत किशोर का नीतीश पर प्रहार, कहा- पिछलग्गू नेतृत्व से नहीं बदलेगा बिहार

10 लाख युवाओं को जोड़ेंगे प्रशांत किशोर, चलाएंगे 'बात बिहार की' कैंपेन

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 18, 2020, 12:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,281

     
  • कुल केस

    1,603,437

    +364
  • ठीक हुए

    356,440

     
  • मृत्यु

    95,716

    +24
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर