लाइव टीवी

दिल्ली विधानसभा चुनाव में अब AAP के लिए रणनीति बनाएंगे प्रशांत किशोर, CM केजरीवाल ने ट्वीट कर दी जानकारी

News18Hindi
Updated: December 14, 2019, 1:18 PM IST
दिल्ली विधानसभा चुनाव में अब AAP के लिए रणनीति बनाएंगे प्रशांत किशोर, CM केजरीवाल ने ट्वीट कर दी जानकारी
प्रशांत किशोर आप के लिए करेंगे काम. (फाइल फोटो)

केजरीवाल (CM Kejriwal) ने कहा कि प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने कई राज्यों में पार्टियों की जीत के लिए रणनीति बनाई है. अब वो आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) में AAP को जिताने के लिए हमारे साथ काम करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 14, 2019, 1:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चुनावी रणनीतिकार और जनता दल युनाइटेड (JDU) के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) अब आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के लिए काम करेंगे. इसकी जानकारी खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार को ट्वीट कर दी. केजरीवाल ने कहा कि प्रशांत किशोर ने कई राज्यों में पार्टियों की जीत के लिए रणनीति बनाई है. अब वो आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) में AAP को जिताने के लिए हमारे साथ काम करेंगे.

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'मुझे यह खबर साझा करते हुए खुशी हो रही है कि 'इंडियन-पैक' ने हमारे साथ हाथ मिलाया है. आपका स्वागत है.'



वहीं, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने सीएम केजरीवाल के इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा, 'अबकी बार 67 के पार.' बता दें कि फरवरी 2015 में हुए दिल्ली विधानसभा के चुनाव में आम आदमी पार्टी को 70 में से 67 सीटों पर जीत मिली थी.


बता दें कि इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (I-PAC) प्रशांत किशोर की एजेंसी है जो मुख्य रूप से राजनीतिक दलों के लिए चुनावी रणनीति बनाने का काम करती है. दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए अगले साल की शुरुआत में चुनाव होगा.

'इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी' ने उनके ट्वीट के जवाब में कहा कि पंजाब चुनाव में आप को एक कड़े प्रतिद्वंद्वी के तौर पर देखा गया था. ‘आई-पैक’ ने ट्वीट किया, 'पंजाब (चुनाव) के नतीजों के बाद, हमने आपको अभी तक के अपने सबसे कड़े प्रतिद्वंद्वी के रूप में स्वीकार किया. केजरीवाल और आप के साथ आकर खुश हैं.'

'इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी' (I-Pac) अभी 2021 पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के साथ मिलकर काम कर रही है. इससे पहले 'आई-पैक' 2014 के आम चुनाव में भाजपा और विधानसभा चुनाव के लिए जेडीयू नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ काम कर चुकी है.

वहीं, न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार प्रशांत किशोर शनिवार को पटना में मुख्यमंत्री और जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार से मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि मुलाकात के दौरान प्रशांत किशोर नागरिकता संशोधन बिल पर नीतीश कुमार के साथ बात कर सकते हैं. क्योंकि, जब से नागरिकता संशोधन बिल पास हुआ है तभी से पीके इसका विरोध कर रहे हैं. हालांकि, संसद में जेडीयू ने इसका समर्थन किया था. इसके बावजूद भी वो पार्टी लाइन से अलग लगातार विरोध कर रहे हैं.



बहुमत से संसद में CAB पास हो गया
शुक्रवार को प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर गैर बीजेपी (BJP) शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से 'भारत की आत्मा' को बचाने का आह्वान किया था. प्रशांत किशोर ने ट्वीट में लिखा था, 'बहुमत से संसद में CAB पास हो गया. न्यायपालिका से परे, अब 16 गैर-बीजेपी मुख्यमंत्रियों पर भारत की आत्मा को बचाने की जिम्मेदारी है क्योंकि ये ऐसे राज्य हैं, जहां इसे लागू करना है. तीन मुख्यमंत्रियों (पंजाब, केरल और पश्चिम) ने CAB और NRC को नकार दिया है, और अब दूसरे गैर-बीजेपी राज्य के सीएम को अपना रुख स्पष्ट करने का समय आ गया है.' (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें- 

CAB पर बरसे PK, कहा- अब 16 गैर BJP CM पर 'भारत की आत्मा' बचाने की जिम्मेदारी

राजस्‍थान में शराबबंदी की तैयारियां, अधिकारियों की टीम बिहार में कर रही सर्वे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 10:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर