राबड़ी बोलीं- लोग बाढ़ में बह गए लेकिन नीतीश केवल हवाई सर्वे कर रहे हैं

बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार की सरकार पर प्रदेश में तटबंधों के नाम पर पैसों की लूट करने का आरोप लगाया . विधानपरिषद में राजद नेताओं ने हंगामा भी किया.

News18 Bihar
Updated: July 15, 2019, 12:37 PM IST
राबड़ी बोलीं- लोग बाढ़ में बह गए लेकिन नीतीश केवल हवाई सर्वे कर रहे हैं
राबड़ी ने नीतीश कुमार को नसीहत देते हुए कहा कि उनको बाढ़ की स्थिति सड़क मार्ग से जाकर देखना चाहिए. (राबड़ी की फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: July 15, 2019, 12:37 PM IST
बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने बाढ़ त्रासदी के बीच नीतीश सरकार पर बड़ा हमला बोला है. सोमवार को विधानपरिषद में विरोध के दौरान राबड़ी ने सरकार को निशाने पर लिया और कहा कि बिहार में तटबंध टूटने से कई लोग बह गए हैं, लेकिन नीतीश कुमार केवल हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं.

नीतीश को नसीहत

राबड़ी ने नीतीश कुमार को नसीहत देते हुए कहा कि उनको बाढ़ की स्थिति सड़क मार्ग से जाकर देखना चाहिए. वह सड़क से प्रभावित इलाकों में जाएंगे तभी तो हकीकत का पता चलेगा. उन्‍होंने आरोप लगाया कि बिहार में तटबंधों के नाम पर पैसों की लूट हुई है. तटबंध सिर्फ मिट्टी और बालू से बनाए गए हैं, जबकि हमारे समय मे पिच से तटबंध बनता था.

चूहे हो रहे बदनाम

राबड़ी देवी ने पिछली साल हुई घटना पर चुटकी लेते हुए कहा कि बिहार में कभी चूहा तटबंध तोड़ देता है तो कभी चूहा शराब भी पी जाता है. इससे पहले सदन में राजद के सदस्यों ने सरकार पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान राजद नेताओं ने 'बाढ़ के नाम पर लूट बंद करो' के नारे लगाए. साथ ही जल संसाधन मंत्री पर विफलता का आरोप लगाया. राजद के इस विरोध में कांग्रेस भी साथ दिखी एकसाथ दिखी.

बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करते सीएम


विपक्ष का हंगामा
Loading...

विधानपरिषद की कार्यवाही शुरू होने से पहले राजद नेताओं ने परिषद के बाहर जमकर नारेबाजी की. सदन में विपक्ष की नेता राबड़ी देवी की अगुवाई हो रहे हंगामे में कांग्रेस नेता मदन मोहन झा और प्रेमचंद्र मिश्रा भी शामिल हुए.

ये भी पढ़ें- बिहार में बाढ़ का कहर जारी, अब तक 29 लोगों की मौत

ये भी पढ़ें- मधुबनी: सांसद पर फूटा बाढ़ पीड़ितों का गुस्सा, किया हमला

इनपुट- रवि एस नारायण
First published: July 15, 2019, 12:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...