सुशील मोदी को Corona Virus से डरने की जरूरत नहीं, क्योंकि उनके पास है 'लालू-कवच': राबड़ी देवी
Patna News in Hindi

सुशील मोदी को Corona Virus से डरने की जरूरत नहीं, क्योंकि उनके पास है 'लालू-कवच': राबड़ी देवी
इससे पहले सुशील मोदी के लालू यादव पर किए गए ट्वीट पर तेजस्वी और राबड़ी ने जोरदार हमला बोला था. (फाइल फोटो)

राबड़ी देवी ने अपने ट्वीट में सुशील मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि डिप्टी सीएम को कोरोना से हरगिज नहीं डरना चाहिए क्योंकि उनके पास वैसे भी 'लालू-कवच' ('Lalu-kavach') है.

  • Share this:
पटना. बिहार की राजनीति में लालू यादव (Lalu Yadav) और सुशील मोदी (Sushil Modi) की केमिस्ट्री बाकियों से कुछ अलग है. पिछले कई दशकों से दोनों नेताओं के बीच कभी शॉफ्ट तो कभी-कभी हॉट वार भी होते रहे हैं. लालू यादव के जेल जाने के बाद अब सुशील कुमार मोदी के निशाने पर लालू के बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) हैं. ये कहना गलत नहीं होगा कि लालू परिवार पर सुशील मोदी हमेशा से हावी रहे हैं. पिछले कुछ दिनों से तेजस्वी और राबड़ी देवी ने भी मोर्चा संभाल लिया है. राबड़ी ने अभी ट्वीट करके डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी को ललकारते हुए कहा कि कहां घर में छुप्पल हो सुशील मोदी. कोरोना से डर गए का. घर से बाहर निकलो.

राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने अपने ट्वीट में सुशील मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि डिप्टी सीएम को कोरोना से हरगिज नहीं डरना चाहिए क्योंकि उनके पास वैसे भी 'लालू-कवच' ('Lalu-kavach') है. राबड़ी ने कहा कि 'लालू-कवच' के डर से कोरोना उनके आसपास भी नहीं भटकने वाला है. क्योंकि सुशील मोदी जी पूरे दिन भर करीब 72000 बार सबसे शक्तिशाली 'लालू मंत्र' का जाप करते हैं. ऐसे में भला इतना जाप करने के बाद कही कोरोना पकड़ने वाला है. इसलिए डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी जी को बिना डरे अपने घर से बाहर निकलना चाहिए क्योंकि बिहार की जनता आपका बेशब्री से इंतजार कर रही है.


राबड़ी ने जोरदार हमला बोला
इससे पहले सुशील मोदी के लालू यादव पर किए गए ट्वीट पर तेजस्वी और राबड़ी ने जोरदार हमला बोला था. सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में लालू यादव पर हमला बोलते हुए कहा था कि अपने 15 सालों के शासनकाल में लालू जी ने अस्पताल क्यों नहीं बनवाए. इसके बाद बौखलाते हुए तेजस्वी ने ट्वीट किया कि 15 सालों में आदरणीय लालू यादव ने अस्पतालों में इंफ्रास्ट्रक्चर और तमाम सुविधाऐं मुहैया कराईं, लेकिन नीतीश सरकार के 15 सालों में सभी अस्पतालों का सत्यानाश हो गया. अब तो अस्पतालों में रूई और सूई ही मिलती है. कोरोना संकटकाल में इनदिनों राजनेताओं के लिए ट्वीटर और सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म ही एक मात्र जरिया है, जिसके जरिये ये नेता एक-दूसरे पर अपना भड़ांस निकालते हैं. जैसे राबड़ी देवी ने सुशील मोदी पर हमला बोला है तो कुछ पल के बाद सुशील मोदी की तरफ से भी जल्द ही पलटवार होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading