• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • रघुवंश प्रसाद बोले- BJP को सत्ता से हटाने के लिए किसी से भी हाथ मिलाएगी राजद

रघुवंश प्रसाद बोले- BJP को सत्ता से हटाने के लिए किसी से भी हाथ मिलाएगी राजद

रघुवंश प्रसाद ने कहा कि शरद महागठबंधन के बड़े नेता हैं (फोटो- एएनआई)

रघुवंश प्रसाद ने कहा कि शरद महागठबंधन के बड़े नेता हैं (फोटो- एएनआई)

राजद नेता (RJD leader) ने कहा है कि सभी गैर-भाजपा दलों के लिए महत्वपूर्ण है कि भगवा पार्टी को हटाने के लिए विचारधारा को छोड़कर एक साथ आएं.

  • Share this:
    पटना. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देश में जारी विरोध- प्रदर्शन के बीच राष्ट्रीय जनता दल के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) ने गैर-भाजपा दलों  के लिए बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि बीजेपी (BJP) को सत्ता से हटाने के लिए वो किसी से भी हाथ मिला सकते हैं. राजद नेता ने कहा है कि सभी गैर-भाजपा दलों के लिए महत्वपूर्ण है कि भगवा पार्टी को हटाने के लिए विचारधारा को छोड़कर एक साथ आएं. न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि अच्छा हो या बुड़ा वो भाजपा को हराने के लिए किसी से भी हाथ मिला सकते हैं. उनके अनुसार, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को साथ आना चाहिए.

    बता दें कि रघुवंश प्रसाद सिंह का यह बयान तब आया है जब उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने एक दिन पहले कहा था कि बिहार में 15 मई से  28 मई 2020 तक एनपीआर लागू किया जाएगा. मोदी ने कहा था कि कोई भी राज्य एनपीआर से इनकार नहीं कर सकता है . ये केंद्र का कानून है और इसे हर राज्य को मानना होता है. सुशील मोदी ने ये बातें शनिवार को बिहार बीजेपीकार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही थी. सुशील मोदी ने नागरिकता कानून पर कहा था कि पाकिस्तान में धार्मिक अल्पसंख्यकों को प्रताड़ित किया जाता है, इसका उदाहरण ननकाना साहिब में जगजीत कौर के अपहरण और धर्मान्तरण के बाद मुस्लिमों द्वारा गुरुद्वारा पर हमला होने से पता चलता है. सीएए ऐसे ही अल्पसंख्यकों को भारत की नागरिकता देने से संबंधित है. बिहार में भी 1947 के बाद 3,50,000 हिंदू शरणार्थी आए, जिन्हें अलग-अलग जिलों में बसाया गया.



    1964 में बड़ी संख्या में म्यांमार से हिन्दु आए
    मोदी ने कहा था कि बिहार सरकार के आदेश पर आद्री ने 2009 में 10,536 परिवार के 50,238 बंगाली हिन्दुओं का सर्वेक्षण किया था, जिसमें अधिकांश अनुसूचित जाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के पाए गए. इन शरणार्थियों को कांग्रेस के कार्यकाल में जमीन दी गई और बसाया गया. 1964 में बड़ी संख्या में म्यांमार से हिन्दु आए जिन्हें कटिहार, पूर्णिया, अररिया और समस्तीपुर में बसाया गया. फिर भी बिहार में बंद ,हिंसक प्रदर्शन का कार्यक्रम राजद व कांग्रेस कर रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- 

    M उद्धव पर फडणवीस का तंज, कहा- ‘दिल्ली के मातोश्री’ से चलेगी महाराष्ट्र सरकार

    महाराष्ट्र: शरद पवार ने विभागों के बंटवारे पर मतभेद की खबरों को किया खारिज

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज