क्या होगा जब RIMS में भर्ती लालू यादव से मिलेंगे 'नाराज' रघुवंश प्रसाद सिंह?
Patna News in Hindi

क्या होगा जब RIMS में भर्ती लालू यादव से मिलेंगे 'नाराज' रघुवंश प्रसाद सिंह?
रघुवंश प्रसाद सिंह आज रांची के रिम्स में लालू प्रसाद यादव से मिलेंगे. (फाइल फोटो)

ये मुलाकात आरजेडी के भविष्य और 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के लिए जितना महत्वपूर्ण है उससे कहीं ज्यादा ये आरजेडी के दो बड़े नेताओं के बीच कथित कोल्ड वार (Cold War) को खत्म करने की कवायद मानी जा रही है. सवाल ये है कि क्या लालू अपने दोनों करीबियों को मना लेंगे?

  • Share this:
पटना. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से शनिवार को पार्टी के सीनियर नेता रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) की मुलाकात होगी. ये मुलाकात आरजेडी के भविष्य और 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के लिए जितना महत्वपूर्ण है उससे कहीं ज्यादा ये आरजेडी के दो बड़े नेताओं के बीच कथित कोल्ड वार (Cold War) को खत्म करने की कवायद मानी जा रही है. सवाल ये है कि क्या लालू अपने दोनों करीबियों को मना लेंगे?

ऐसे ये बात भी सही है कि भले आरजेडी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह और रघुवंश प्रसाद सिंह की सोच आपस में मेल न खाती रही हो, लेकिन लालू के लिए ये दोनों ही सबसे भरोसेमंद हैं. हकीकत ये भी है कि ये दोनों सीनियर नेता लालू यादव की कही किसी बात को मानने से इनकार भी नहीं करते हैं. आरजेडी को करीब से जानने वालों की मानें तो रघुवंश प्रसाद सिंह और लालू यादव में गहरी दोस्ती है. जब भी लालू यादव और उनका परिवार संकट में रहा है तो संकट मोचक के तौर पर रघुवंश प्रसाद ने ही सबसे पहले मोर्चा संभाला है. और तो और लालू के बुरे समय में भी रघुवंश ने कभी उनका साथ नहीं छोड़ा.

चारा घोटाले के डोरंडा कोषागार मामले में लालू यादव समेत 111 आरोपी ट्रायल फेस कर रहे हैं.
रघुवंश प्रसाद सिंह को लालू यादव का काफी करीबी और भरोसेमंद माना जाता है लेकिन क्या वो जगदानंद सिंह के साथ चली आ रही उनकी अदावत सुलझा सकते हैं, ये देखना होगा (फाइल फोटो)




लालू यादव के लिए मंत्री पद का ऑफर ठुकराया
जानकार बताते हैं कि जब केंद्र में UPA-2 की सरकार बनी थी उस समय लालू यादव को मंत्रिमंडल से दूर रखा गया था, लेकिन कांग्रेस रघुवंश प्रसाद सिंह को अपने मंत्रिमंडल में शामिल करना चाहती थी. तब भी रघुवंश प्रसाद ने लालू का साथ नहीं छोड़ा और कांग्रेस के दिए ऑफर को ठुकरा दिया था.

ऐसे भी कई मौके आए जब रघुवंश प्रसाद लालू यादव के चलते सबसे लड़ गए. आज जब रघुवंश प्रसाद सिंह अपनी चिठ्ठी को लेकर लालू यादव से मिल रहे हैं तो इसके पीछे वही भरोसा है जो रघुवंश बाबू और लालू यादव के बीच कायम है.

दिल्ली में रघुवंश प्रसाद करेंगे चुनाव प्रचार
माना जा रहा है कि लालू यादव से रिम्स में मुलाकात के बाद रघुवंश प्रसाद दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे. दिल्ली विधानसभा चुनाव में आरजेडी-कांग्रेस के उम्मीदवारों के लिए वो अगले तीन दिन- दो फरवरी से चार फरवरी तक चुनाव प्रचार करेंगे. बता दें कि तेजस्वी यादव पहले से ही दिल्ली में कैंप किए हुए हैं.

ये भी पढ़ें


...ऐसा हुआ तो CM नीतीश कुमार के लिए 'सिरदर्द' साबित हो सकते हैं प्रशांत किशोर!




प्राइवेट स्कूलों को भी हर क्षेत्र में मात दे रहा है नालंदा का यह सरकारी विद्यालय

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading