अनंत सिंह के फरार होने के बाद शक के घेरे में पटना पुलिस, उठ रहे कई सवाल

छापेमारी के दौरान विधायक के सरकारी आवास का चप्पा-चप्पा छानने वाले अधिकारी जब बाहर निकले तो उनके चेहरे बहुत सारी चीजे बयां कर रही थी. ग्रामीण एसपी कांतेश मिश्र जब विधायक अनंत सिंह के फरार होने की सूचना दे रहे थे तब एएसपी बाढ़ लिपि सिंह उन्हें फरार सिंह छोटू की गिरफ्तारी की याद दिलाने में लगी थीं

News18 Bihar
Updated: August 18, 2019, 8:07 AM IST
अनंत सिंह के फरार होने के बाद शक के घेरे में पटना पुलिस, उठ रहे कई सवाल
मोकामा विधायक अनंत सिंह
News18 Bihar
Updated: August 18, 2019, 8:07 AM IST
AK-47 कांड में फंसे मोकामा (Mokama MLA) के बाहुबली विधायक अनंत कुमार सिंह (MLA Anant Kumar Singh) आखिरकार फरार हो गये और पटना पुलिस (Patna Police) हाथ मलती रह गई. महज दो दिन पहले विधायक अनंत सिंह के पैतृक आवास छापेमारी (Raid) कर अनंत सिंह को मुश्किलों में डालने वाली पटना पुलिस अब खुद मुश्किलों में पड़ती दिख रही है. विधायक (MLA) के फरार होने के बाद बिहार पुलिस (Bihar Police) मुख्यालय से लेकर पटना पुलिस (Patna Police) पर सावल उठ खड़े हुए हैं. सवाल यह है कि पुलिस ने क्या सोचकर विधायक अनंत सिंह की गिरफ्तारी का फैसला लिया जबकि वो चाहती तो एक दिन पहले ही विधायक को गिरफ्तार कर सकती थी.

देर रात हुई छापेमारी

सवाल यही है कि विधायक आवास से बैरंग लौटने वाली पटना पुलिस अब अनंत सिंह को कैसे गिरफ्तार कर पायेगी? पिछले कुछ दिनो से मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के लिेये मुश्किलें खड़ा करने वाली पटना पुलिस ने शनिवार की रात करीब साढ़े बारह बजे विधायक के पटना स्थित सरकारी आवास पर छापेमारी की. पुलिस का मकसद था विधायक अनंत सिंह की गिरफ्तारी. दरअसल 16 अगस्त को अनंत सिंह के पैतक आवास पर छापेमारी कर पुलिस ने एके-47, दो हैंड ग्रेनेड औऱ कई कारतूस जब्त किया और UAPA ACT में केस दर्ज किया था. यूएपीए ऐसा एक्ट है जिसमें विधायक अनंत सिंह को पुलिस कभी भी गिरफ्तार कर सकती थी लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने पैतृक आवास पर छापेमारी के दूसरे दिन अनंत सिंह को पकड़ना मुनासिब समझा.

तीन घंटे की रेड में खाली रहे पुलिस के हाथ

रात साढ़े बारह बजे शुरू हुई छापेमारी करीब तीन घंटे तक चली. इस तीन घंटे में पटना पुलिस ने कामयाबी के नाम पर अनत सिंह के सहयोगी को पकड़ा जो बाढ़ थाना में फायरिंग के एक कांड में फरार चल रहा था साथ ही पुलिस ने एक तलवार भी अनंत सिंह के आवास से बरामद किया. पुलिस ने चप्पे चप्पे की तलाशी ली लेकिन विधायक अनंत सिंह नहीं मिले. रेड के दौरान विधायक की पत्नी घर में मौजूद थीं जिनसे पुलिस ने घंटो पूछताछ की.

अधिकारियों के चेहरे से उड़े थे होश

छापेमारी के दौरान विधायक के सरकारी आवास का चप्पा-चप्पा छानने वाले अधिकारी जब बाहर निकले तो उनके चेहरे बहुत सारी चीजे बयां कर रही थी. ग्रामीण एसपी कांतेश मिश्र जब विधायक अनंत सिंह के फरार होने की सूचना दे रहे थे तब एएसपी बाढ़ लिपि सिंह उन्हें फरार सिंह छोटू की गिरफ्तारी की याद दिलाने में लगी थीं लेकिन जब इऩ अधिकारियों से सवाल किये जाने लगे तब कई सवाल पर पुलिस अधिकारियो के जबाब हैरान करनेवाले थेय ये अधिकारी अनंत सिंह के फरार होने और पुलिस की चूक जैसे सवालो पर भी आलाधिकारियो के दिशा निर्देश का लगातार हवाला देते रहे.
Loading...

अलग केस दर्ज करने की तैयारी में पुलिस

पुलिस के हाथ अनंत सिंह तो नहीं लगे लेकिन उनके सरकारी मोबाइल को पुलिस ने जब्त कर लिया है. उनके खिलाफ फरार अपराधी को संरक्षण देने के आरोप में पटना के सचिवालय थाना में भी एक अलग से केस दर्ज करने की तैयारी में पटना पुलिस जूट गई है साथ ही पुलिस अधिकारी अब अनंत सिंह के फरार होने के बाद आगे की कानूनी प्रक्रिया जारी रखने का दावा करते नजर आ रहे हैं. कल तक गिरफ्तारी के लिये पुलिस को खुली चुनौती देनेवाले अनंत सिंह का फरार हो जाना पटना पुलिस के लिये भी अबूझ पहेली बनकर रह गई है. पटना पुलिस के अधिकारी भी इस बात से सहमें है कि विधायक की फरारी कहीं आनेवाले दिनों में उनके लिये परेशानी का सबब ना बन जाये.

रिपोर्ट- संजय कुमार/रजनीश कुमार

ये भी पढ़ें- धोखाधड़ी के मामले में फंसे भोजपुरी सिने स्टार खेसारी लाल यादव, FIR दर्ज

ये भी पढ़ें- अनंत सिंह पर इतने दिनों तक क्यों थी 'सरकार' की अनंत कृपा?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2019, 8:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...