Alwar: 9वीं की छात्रा से गैंगरेप कर जान से मारने की कोशिश, 2 दिनों तक दर्ज ही नहीं हुई FIR
Alwar News in Hindi

Alwar: 9वीं की छात्रा से गैंगरेप कर जान से मारने की कोशिश, 2 दिनों तक दर्ज ही नहीं हुई FIR
ताजा मामला बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी थाना इलाके में सामने आया है.. सांकेतिक फोटो.

दो दिनों के बाद मामला दर्ज कर पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में लिया है. आरोपियों ने गैंगरेप के दौरान नाबालिग का Video भी बनाया है.

  • Share this:
अलवर. जिले में एक बार फिर गैंगरेप (Gangrape) की बड़ी वारदात सामने आई है. यहां 3 युवकों ने 9वीं कक्षा की लड़की का अपहरण कर गैंगरेप किया. इस दौरान आरोपियों ने छात्रा का अश्लील वीडियो (Porn video) भी बना लिया. पीड़िता ने जब वारदात की जानकारी पुलिस को देने की बात कही, तो उसका सिर दीवार से भिड़ाकर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया. वारदात के बाद पीड़िता के परिजनों ने आरोप लगाया कि वे दो दिनों तक पुलिस के चक्कर लगाते रहे लेकिन किसी ने मामला दर्ज नहीं किया.  का खुलासा होने के बाद महिला थाना पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है. पीड़िता बिहार की रहने वाली है.

वारदात 10 मई की, पर पुलिस ने दो दिन बाद दर्ज की FIR
मामला भिवाड़ी इलाके से जुड़ा है. गैंगरेप की वारदात 3 दिन पहले 10 मई को हुई थी. लेकिन पुलिस की लचर कार्यशैली के कारण मामला 2 दिन बाद बुधवार को दर्ज हो पाया है. पीड़िता के पिता ने मामला दर्ज कराया कि उसकी बेटी 10 मई को दोपहर करीब 12 बजे समीप के गांव में अपने चाचा के यहां गई थी. काफी देर तक चाचा के घर नहीं पहुंची तो वह तलाशने निकले. इसी दौरान फोन आया कि उनकी बेटी एक निजी क्लिनिक में भर्ती है. वह इलाज कराकर बेटी को घर ले आए.

आरोपियों ने वारदात का वीडियो बनाया
घर आने के बाद बेटी ने उन्हें बताया कि जब वह चाचा के घर जा रही थी, तो रास्ते में आलपमुर गांव के रैन बसेरे के समीप 3 लड़कों ने उसे रोककर मारपीट की. बाद में तीनों युवक उसे उठाकर एक खाली कमरे में ले गए. वहां उसके साथ गैंगरेप हुआ. इस दौरान तीनों युवकों ने वीडियो भी बना लिया. इसका विरोध करने और शिकायत करने की बात से आरोपियों ने उसका सिर दीवार पर मारकर दिया. सिर में चोट से वह बेहोश हो गई. होश आया तो उसने खुद को एक क्लिनिक में पाया.



दो दिन तक थाने के चक्कर लगाता रहा पीड़ित परिवार
पीड़िता ने बताया कि आरोपियों ने एक लड़के का नाम प्रशांत बोला था. पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया कि थाने में बार-बार चक्कर लगाने के बावजूद उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई. इसके बाद जब पीड़िता की हालत नाजुक होने पर उसे अलवर रेफर कर दिया गया, तब आनन-फानन में रिपोर्ट दर्ज कर तीनों आरोपियों को हिरासत में लिया गया है. डीएसपी महिला सेल भिवाड़ी प्रेम बहादुर ने बताया कि नाबालिग से अपहरण के बाद गैंगरेप के मामले तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है. आरोपियों से पूछताछ की जा रही है.

ये भी पढ़ेंः  नाबालिग लड़की को अगवा कर जंगल में गैंगरेप करने वाले चारों आरोपी गिरफ्तार

Rajasthan: लॉकडाउन और मंदी के दौर के बीच भी करोड़ों कमा लिए, जानिए कौन है यह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज