राज्यसभा चुनावः बिहार से राजीव शुक्ला हो सकते हैं कांग्रेस उम्मीदवार, आंतरिक कलह बनी परेशानी
Patna News in Hindi

राज्यसभा चुनावः बिहार से राजीव शुक्ला हो सकते हैं कांग्रेस उम्मीदवार, आंतरिक कलह बनी परेशानी
राजीव शुक्ला को बिहार से राज्यसभा चुनाव का टिकट दे सकती है कांग्रेस

प्रदेश में कांग्रेस का आंतरिक मतभेद राज्यसभा जाने की पार्टी की संभावनाओं को खत्म कर सकता है. कांग्रेस के तीन विधायकों ने खुले तौर पर अशोक चौधरी को समर्थन दिया है. पार्टी नेतृत्व से बगावत कर अशोक चौधरी हाल ही में तीन अन्य विधायकों के साथ जनता दल यूनाइटेड (JDU) में शामिल हुए हैं.

  • Share this:
राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस विधायकों की क्रॉस वोटिंग की आशंकाओं के बीच बिहार में कांग्रेस राजीव शुक्ला को राज्यसभा टिकट दे सकती है. राज्यसभा चुनाव 23 मार्च को होने हैं. पिछले दिनों राजीव शुक्ला पटना में थे लेकिन अपनी छवि के उलट उन्होंने अपने दौरे को पर्दे में रखा. उन्होंने मीडिया से भी कोई बातचीत नहीं की.

पार्टी के आंतरिक सूत्रों ने न्यूज 18 को बताया कि वह संसद के उच्च सदन के लिए बिहार से कांग्रेस के उम्मीदवार हो सकते हैं. 243 सदस्यों की बिहार विधानसभा में कांग्रेस के 27 विधायक हैं. नियमों के अनुसार एक उम्मीदवार को नामांकन दाखिल करने के लिए कम से कम 35 विधायकों का समर्थन आवश्यक है. कांग्रस की सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के पास 79 विधायक हैं. 9 सरप्लस वोट कांग्रेस के लिए फायदेमंद साबित होंगे.

लेकिन आंतरिक मतभेद राज्यसभा जाने की पार्टी की संभावनाओं को खत्म कर सकता है. कांग्रेस के तीन विधायकों ने खुले तौर पर अशोक चौधरी को समर्थन दिया है. पार्टी नेतृत्व से बगावत कर अशोक चौधरी हाल ही में तीन अन्य विधायकों के साथ जनता दल यूनाइटेड (JDU) में शामिल हुए हैं.



बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने मंगलवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से दिल्ली में मुलाकात की और पार्टी के हालात की जानकारी दी. न्यूज 18 से बातचीत में कादरी ने यह स्वीकार किया कि उनके और राहुल के बीच राज्यसभा उम्मीदवार को लेकर भी बात हुई.
जब राजीव शुक्ला की उम्मीदवारी के सवाल पर उन्होंने कहा, “ये शुरुआती चर्चा है. मैं सिर्फ अपना फीडबैक दे सकता हूं. इस बारे में कोई भी घोषणा ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी करेगी.”

कादरी ने कहा कि उनकी पार्टी को भाभुआ विधानसभा उपचुनाव जीतने की उम्मीद है, इससे राज्यसभा चुनाव में उनकी पार्टी की दावेदारी और अधिक मजबूत होगी. उन्होंने कांग्रेस में आंतरिक कलह की खबरों को खारिज कर दिया. हालांकि अशोक चौधरी के करीबी और बक्सर से कांग्रेस विधायक मुन्ना चौधरी ने न्यूज18 को कहा कि पार्टी में चौधरी का अपमान किया गया. उन्होंने कहा कि इस संबंध में वह पार्टी हाईकमान से शिकायत भी करेंगे. वहीं जेडीयू में शामिल होने के बाद अशोक चौधरी ने कहा, “कई कांग्रेस विधायक मेरे संपर्क में हैं. राज्यसभा चुनाव में वे किसी का भी साथ दे सकते हैं.”

राज्यसभा की 58 सीटों के लिए 23 मार्च को चुनाव होने हैं. इनमें से 6 सांसद बिहार से चुने जाने हैं. राज्यसभा में जेडीयू के तीन सदस्यों बशिष्ठ नारायण सिंह, महेंद्र प्रसाद सिंह और अनिल साहनी का कार्यकाल समाप्त होने वाला है. वहीं अली अनवर और शरद यादव को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते राज्यसभा से निष्कासित किया गया है. इनमें से अली अनवर का कार्यकाल समाप्त होने वाला है लेकिन शरद यादव ने इस फैसले के खिलाफ कोर्ट में अपील की है.

दो और सीटें जिन पर चुनाव होने हैं वे बीजेपी की है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और धर्मेंद्र प्रधान 2 अप्रैल को राज्यसभा से रिटायर होने वाले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading