रामविलास पासवान बोले- आरक्षण के मसले पर कांग्रेस को बोलने का हक नहीं, सपा-बसपा पर की यह भविष्‍यवाणी

सपा-बसपा के गठबंधन पर पासवान ने कहा कि मैं जानता हूं कि सपा-बसपा में आपस में कलह चल रहा है. एक बार फिर ये लोग विधानसभा में अलग-अलग लड़ेंगे

News18 Bihar
Updated: April 29, 2019, 5:19 PM IST
रामविलास पासवान बोले- आरक्षण के मसले पर कांग्रेस को बोलने का हक नहीं, सपा-बसपा पर की यह भविष्‍यवाणी
रामविलास पासवान की फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: April 29, 2019, 5:19 PM IST
लोजपा सुप्रीमो और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दावा किया है कि एनडीए बिहार में सभी सीटें जीत रही हैं. सोमवार (29 अप्रैल) को पासवान ने कहा, 'अभी तक की जो रिपोर्ट है, उसके मुताबिक हम अभी तक बिहार की सभी सीटें जीत रहे हैं.' कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पासवान ने कहा कि आरक्षण पर बोलने का अधिकार कांग्रेस को नहीं है, क्योंकि आरक्षण के किसी भी मुद्दे से कांग्रेस का कोई लेना-देना नहीं रहा है न तो एसटी-एससी, न ओबीसी और न ही ग़रीब सवर्णों को आरक्षण दिलाने में.

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election: कन्हैया कुमार ने बेगूसराय में डाला वोट फिर फेसबुक पर की इमोशनल अपील



उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अब तक किसी भी दलित नेता को देश का राष्ट्रपति नहीं बनाया. यहां तक की उसने बाबा साहब अम्बेडकर का भी अपमान किया है. उन्होंने कहा कि विपक्ष का दिनों-दिन ग्राफ घट रहा है और महागठबन्धन में बहुत विरोधाभास है. पासवान ने कहा कि महागठबंधन में अभी सारे नेता आपस में ही लड़ रहे हैं और हमने पहले ही कहा था कि देश में वर्ष 2024 तक कोई वेकेंसी नहीं है.

ये भी पढ़ें- बिहार में राजद विधायक की दबंगई, ITBP जवान और उसके परिवार को बीच सड़क पर पीटा

मालूम हो कि लोजपा बिहार में एनडीए की सहयोगी है और छह सीटों पर चुनाव लड़ रही है. बिहार में जिन छह सीटों पर लोजपा चुनाव लड़ रही है उसमें से अधिकांश सीटों पर वोटिंग हो चुकी है. पीएम मोदी ने कहा कि ग़रीबी हटाने का कांग्रेस का नारा, नारा ही रह गया है. मोदी ने अपने कार्यकाल में ग़रीबों के लिए बहुत काम किया. बिहार में डबल इंजन की सरकार का फ़ायदा हो रहा है. देश की सेना को सरकार ने खुली छूट दे रखी है.

मायावती और प्रियंका पर निशाना साधते हुए रामविलास ने कहा कि वे क्यों चिल्ला रही हैं, उनके पेट में क्यों दर्द हो रहा है. ये सारे लोग हताश होकर ऐसा कर रहे हैं. मोदी जी की जाति को इसलिए मुद्दा बनाया जा रहा है कि क्योंकि मोदी जी ही फिर से भारत का पीएम बनेंगे. सपा-बसपा के गठबंधन पर पासवान ने कहा कि मैं जानता हूं कि सपा-बसपा में आपस में कलह चल रहा है. एक बार फिर ये लोग विधानसभा में अलग अलग लड़ेंगे. पासवान ने कहा कि लालू जी जजों की भूमिका पर सवाल उठा रहे हैं लेकिन जजों पर सवाल उठाना ग़लत है.

इनपुट- अमितेश कुमार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...