रामविलास पासवान बोले- भरोसा था कि पीएम नरेंद्र मोदी दलितों के साथ अन्याय नहीं होने देंगे

अपने बेटे चिराग की प्रशंसा करते हुए रामविलास ने कहा कि एक बाप को गर्व होता है जब उसका बेटा कुछ अच्छा करता है.

News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 4:37 PM IST
रामविलास पासवान बोले- भरोसा था कि पीएम नरेंद्र मोदी दलितों के साथ अन्याय नहीं होने देंगे
पटना में आयोजित कार्यक्रम में रामविलास पासवान और अन्य
News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 4:37 PM IST
लोजपा सुप्रीमो राम विलास पासवान ने कहा है कि SC/ST को लेकर एनडीए सरकार और पीएम मोदी का परसेप्शन खराब हो गया था लेकिन अब सबकुछ ठीक हो गया है. पटना में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं पीएम नरेंद्र मोदी को बहुत नजदीक से जानता हूं, उन पर हमें शुरू से ही भरोसा रहा कि वो दलितों के साथ कतई अन्याय नहीं होने देंगे.

हमने पीएम मोदी से SC/ST कानून को लागू करने की मांग की और प्रधानमंत्री जी ने इस मांग को स्वीकार कर लिया. रामविलास ने मंडल कमीशन के लिए वीपी सिंह सरकार की प्रशंसा की और पीएम मोदी को वीपी सिंह के किए काम की याद दिलाई. उन्होंने कहा कि कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और मायावती जनता के बीच कुछ और बोलते हैं और संसद में कुछ और.

ये भी पढ़ें- जीतन राम मांझी का बयान- खुलासा करने से पहले ही मुझ से छीन ली गई सीएम की कुर्सी

पासवान ने कहा कि पार्टी चलाना कोई बच्चों का खेल नहीं है. कितनी पार्टी आई और चली गई. जिस पार्टी के कभी मुख्यमंत्री बने उनकी पार्टी कायम रही लेकिन ना हम कभी सीएम बने और ना हमारे पास पैसा है, फिर हमारी पार्टी चट्टान की तरह खड़ी है. अपने बेटे चिराग की प्रशंसा करते हुए रामविलास ने कहा कि एक बाप को गर्व होता है जब उसका बेटा कुछ अच्छा करता है.

ये भी पढ़ें- रेल मंत्री का ऐलान, आरपीएफ की भर्ती में महिलाओं को मिलेगा 50 % आरक्षण

हमारे परिवार पर आज लोगों को गर्व होता है. पहले हमें चिराग को लेकर चिंता थी क्योंकि चिराग फिल्म की दुनिया से आये थे लेकिन उन्होंने बहुत कम समय में पार्टी को मजबूती से संभाल लिया. लोजपा शेर वाली पार्टी है जो विशालकाय हाथी पर भी छलांग लगाता है. रामविलास पासवान ने कहा कि आज विरोधियों को बड़ा तमाचा लगा है जिन्होंने हमारी सरकार के बारे में दलित विरोधी होने का भ्रम फैलाया था.

मुजफ्फरपुर की घटना का जिक्र करते हुए पासवान ने कहा कि हम चिंतित हैं लेकिन सरकार इसकी जांच करवा रही है. कुछ लोग हैं जो दिल्ली में जाकर सियासत कर रहे हैं और नीतीश कुमार से इस्तीफा मांग रहे हैं लेकिन नीतीश क्यों इस्तीफा दे. मैं कहता हूं कि सरकार की नियत पर कोई सवाल नहीं उठा सकता , विपक्ष को शर्म आनी चाहिए कि वो ऐसे मसले पर जंतर-मंतर से सियासत कर रहे हैं.
Loading...

इनपुट- अमित कुमार सिंह

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर