Home /News /bihar /

30 सालों तक भिखारी ठाकुर के साथ काम कर चुके रामचन्द्र मांझी को राष्ट्रपति के हाथों मिला पद्मश्री अवार्ड

30 सालों तक भिखारी ठाकुर के साथ काम कर चुके रामचन्द्र मांझी को राष्ट्रपति के हाथों मिला पद्मश्री अवार्ड

छपरा के रामचंद्र मांझी को पद्मश्री पुरस्कार देते राष्ट्रपति

छपरा के रामचंद्र मांझी को पद्मश्री पुरस्कार देते राष्ट्रपति

Padam Shree Award 2021: रामचन्द्र मांझी लोक कलाकार स्वर्गीय भिखारी ठाकुर के जीवित शिष्यों में से सबसे बुज़ुर्ग शिष्य हैं. मांझी ने भिखारी ठाकुर के साथ लगभग तीस सालो तक काम किया है. रामचंद्र मांझी को पद्मश्री सम्मान मिलते ही बिहार समेत पूरे छपरा में खुशी की लहर दौड़ गई. दो साल के अंदर यह दूसरा मौका है जब राष्ट्रपति ने रामचंद्र मांझी को सम्मानित किया.

अधिक पढ़ें ...

छपरा. कला के क्षेत्र में पद्मश्री पुरस्कार (Padam Shri Award) के लिए चयनित सारण जिले के मढ़ौरा विधानसभा के तुजारपुर निवासी भोजपुरी के शेक्सपियर कहे जाने वाले भिखारी ठाकुर (Bhikhari Thakur) के सहयोगी रामचन्द्र मांझी देश का प्रतिष्ठित पुरस्कार पद्मश्री राष्ट्रपति के हाथों मिला. दिल्ली में 9 नवम्बर को राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल में आयोजित एक समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा मांझी को पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया. लोक कलाकार स्वर्गीय भिखारी ठाकुर के जीवित शिष्यों में से सबसे बुज़ुर्ग शिष्य और उनके साथ लगभग तीस सालो तक काम कर चुके रामचंद्र मांझी को पद्मश्री सम्मान मिलते ही छपरा में खुशी की लहर दौड़ गई.

पिछले दो साल के अंदर यह दूसरा मौक़ा था जब महामहिम राष्ट्रपति ने अपने हाथों से रामचंद्र मांझी को सम्मानित किया. इसके पहले 2019 में भी रामचंद्र मांझी को राष्ट्रपति ने अपने हाथों से संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया था. रामचंद्र मांझी मढ़ौरा विधानसभा क्षेत्र के तुजारपुर गांव के निवासी हैं. ये लगभग 10 साल की उम्र से भिखारी ठाकुर की नाच पार्टी से जुड़ कर उनके नाटकों में अभिनय एवं नृत्य करते थे. आज भी वो जैनेन्द्र दोस्त के निर्देशन में भिखारी ठाकुर रंगमंडल के सभी नाटकों में अभिनय करते हैं. इस सम्मान समारोह में डॉ. जैनेन्द्र दोस्त को भी रामचन्द्र मांझी का सहयोगी के रूप में राष्ट्रपति भवन में मौजूद थे.

रामचन्द्र मांझी को पद्मश्री पुरस्कार दिए जाने से भोजपुरिया समाज में ख़ुशी की लहर है. इस मौके पर मढ़ौरा विधायक जितेन्द्र कुमार राय ने कहा कि रामचंद्र मांझी जी के पुरस्कृत होकर वापस आने के बाद वो उन्हें एक भव्य समारोह आयोजित कर सम्मानित करेंगे. उन्होंने रामचन्द्र मांझी को मढ़ौरा विधानसभा क्षेत्र का सांस्कृतिक पुरोधा बताया है. इस मौके पर सारण स्नातक क्षेत्र के एमएलसी एवं भिखारी ठाकुर रचनावली के सम्पादक डॉ. वीरेन्द्र नारायण यादव ने रामचंद्र मांझी को बधाई देते हुए डॉ. जैनेन्द्र दोस्त द्वारा भिखारी ठाकुर पर किए जा रहे कार्यों की सराहना की. समाजसेवी राजा वरुण प्रकाश ने कहा कि रामचंद्र माझी छपरा के लिए धरोहर हैं और उन्होंने सांस्कृतिक विरासत को जिंदा रखा है जिसके लिए पूरा छपरा उनके सामने नतमस्तक है.

Tags: Bihar News, Chapra news, Padam shri

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर