अपना शहर चुनें

States

Patna News: युवाओं के लिए अच्छी खबर, 94 हजार पदों पर जल्द शुरू होगी शिक्षकों की भर्ती

पंचायत चुनाव से पहले बहाली प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य तय किया गया है. (Demo Pic)
पंचायत चुनाव से पहले बहाली प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य तय किया गया है. (Demo Pic)

Teachers Recruitment in Bihar: प्राथमिक शिक्षा निदेशक रणजीत कुमार सिंह का कहना है कि 94 हजार पदों पर जल्द शिक्षकों (की बहाली शुरू कर दी जाएगी. 31 जनवरी तक ओपन कैंप काउंसिलिंग (Counseling) की तिथि जारी कर दी जाएगी.

  • Share this:
पटना. बिहार के युवाओं (Youth) के लिए एक अच्छी खबर है. बिहार सरकार (Bihar Government) जल्द शिक्षा विभाग के पदों पर बहाली करने वाली है. प्राथमिक शिक्षा निदेशक रणजीत कुमार सिंह का कहना है कि 94 हजार पदों पर जल्द शिक्षकों (Teachers Recruitment) की बहाली शुरू कर दी जाएगी.  31 जनवरी तक ओपन कैंप काउंसिलिंग की तिथि जारी कर दी जाएगी. काउंसिलिंग के दिन ही अभ्यर्थियों का सर्टिफिकेट सीज कर दिया जाएगा. इसके बाद सर्टिफिकेट को वेब पोर्टल पर अपलोड करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी.

प्राथमिक शिक्षा निदेशक रणजीत कुमार सिंह के मुताबिक,  सबसे पहले नगर निकाय फिर 6 से 8 और उसके बाद 1 से 5 तक की काउंसिलिंग की जाएगी. वहीं निदेशक ने अभ्यर्थियों को भरोसा दिलाया है कि पंचायत चुनाव से पहले बहाली प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य तय किया गया है.

सरकार का बड़ा फैसला



बिहार में उन नियोजित शिक्षकों की सेवा समाप्त हो सकती है, जो शिक्षा विभाग के वेब पोर्टल पर अपना प्रमाणपत्र अपडलोड नहीं करेंगे. बिहार में वर्ष 2006 से 2015 तक नियोजित शिक्षकों के प्रमाणपत्रों को वेब पोर्टल पर अपलोड करने के निर्देश जारी किए गए हैं. शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में सभी जिलों निर्देश जारी किए गए हैं. शिक्षा विभाग की ओर से कहा गया है कि जिन शिक्षकों प्रमाणपत्रों की जांच अभी तक नहीं हो पाई है. उन्हें अपना प्रमाणपत्र स्वयं पोर्टल पर अपलोड करना होगा. विभाग की ओर से जारी निर्देश में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि ऐसा नहीं करने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त कर दी जाएगी और वेतन की भी वसूली होगी.


ये भी पढ़ें: Unnao News: 9 साल की बच्ची से बरबर्ता, स्वेटर से गला घोंटा, चेहरे पर खरोंच के निशान, पिता ने लगाया रेप का आरोप 

एक लाख से अधिक शिक्षक

बिहार में करीब एक लाख तीन हजार शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच नहीं की जा सकी है. प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ. रणजीत कुमार सिंह की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि ऐसे शिक्षकों की सूची पोर्टल पर जारी की जाएगी. इसके लिए शिक्षा पदाधिकारी जिला, प्रखंड और नियोजन इकाईवार शिक्षकों की सूची अपलोड की जाएगी. जिसके बाद इन शिक्षकों को विभाग की ओर से निर्धारित समयसीमा के भीतर सभी आवश्यक प्रमाणपत्र और नियोजन पत्र अपलोड करना होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज