लाइव टीवी
Elec-widget

पटना में 30 नवंबर से फिर शुरू होगा अतिक्रमण हटाओ अभियान, तोड़ने के लिए भी प्रशासन वसूलेगा जुर्माना

News18 Bihar
Updated: November 29, 2019, 11:10 AM IST
पटना में 30 नवंबर से फिर शुरू होगा अतिक्रमण हटाओ अभियान, तोड़ने के लिए भी प्रशासन वसूलेगा जुर्माना
राजधानी पटना में 30 नवंबर से 5 दिसंबर तक अतिक्रमण हटाओ अभियान चलेगा.

डीएम ने बताया कि गोला रोड, बेली रोड से रजिस्ट्री आफिस तक तथा अशोपुर से उसडी बांध तक पैमाइश पूरी हो गयी है. योगीपुर नाला और पहाड़ी पुर नाला के लिए भूअर्जन का नक्शा प्राप्त हो गया है जहां 204 अतिक्रमण है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 29, 2019, 11:10 AM IST
  • Share this:
पटना. पटना में हुए जलजमाव (Water Logging) के बाद बिहार सरकार और जिला प्रशासन (Government of Bihar and District Administration) पूरी तरह सतर्क है और एक बार फिर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाने का फैसला किया है. पटना जिला प्रशासन ने एक बार फिर से फैसला लिया है की पटना में नालों के ऊपर अतिक्रमण कर बनाए गए जितने भी मकान हैं सब पर बुल्डोजर चलाया जाएगा. पटना जिलाधिकारी कुमार रवि ने समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिया है कि अतिक्रमण कर हुए निर्माण पर पूरी सख्ती बरती जाए और उसे ध्वस्त किया जाए.


30 नवंबर से 5 दिसंबर तक अभियान

पटना के डीएम कुमार रवि ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि बादशाही नाला सहित  शहर के सभी प्रमुख नालों पर से अतिक्रमण  हटाया जाए. अतिक्रमण हटाने के लिए  जिला प्रशासन की तरफ से  30 नवंबर से 5 दिसंबर तक  विशेष अभियान चलाया जाएगा. अभियान की समाप्ति के बाद 6 दिसंबर को  इस अभियान की  समीक्षा की जाएगी,  उसके बाद  भी  अगर कोई अतिक्रमण बचता है तो 7 दिसंबर से फिर से अभियान चलाया जाएगा.

अतिक्रमण हटाने की जगह चिन्हित

अतिक्रमण हटाने के लिए जिला प्रशासन ने नालों का चयन कर लिया है. जिलाधिकारी ने बताया कि बादशाही नाले के ऊपर किसी भी तरह का अतिक्रमण नहीं रहने दिया जाएगा. यह नाला पटना का वह सबसे बड़ा नाला है जिससे शहर भर का पानी निकलता है. उन्होंने बताया कि बेली रोड के समानांतर रूपसपुर में नालों पर बने सभी मकानों पर बुल्डोजर चलाया जाएगा. हड़ताली चौक से बोरिंग रोड, पाटलिपुत्रा और श्री कृष्णपुरी रोड में स्पेशल ड्राइव चलाकर अतिक्रमण हटाया जाएगा.

Loading...

सभी जगहों की पैमाइश हुई पूरी

डीएम ने बताया कि गोला रोड, बेली रोड से रजिस्ट्री आफिस तक तथा अशोपुर से उसडी बांध तक पैमाइश पूरी हो गयी है. योगीपुर नाला और पहाड़ी पुर नाला के लिए भूअर्जन का नक्शा प्राप्त हो गया है जहां 204 अतिक्रमण है.



तोड़ने का भी जुर्माना वसूला जाएगा

उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने फैसला लिया है कि सभी नालों पर अतिक्रमण कर बनाए गए अवैध मकान खुद ही हटा लें  वरना जिला प्रशासन तोड़ने के जुर्माने भी भी वसूलेगा. जितने भी अवैध मकान बने हैं ऐसे तोड़ने में जो भी खर्च लगेगा वह मकान मालिक से वसूला जाएगा.
 ये भी पढ़ें

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 10:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...