बिहारः होली में घर आए प्रवासी मजदूरों की वापसी शुरू, रेलवे और जिला प्रशासन अलर्ट

प्रवासी मजदूरों की वापसी शुरू.

प्रवासी मजदूरों की वापसी शुरू.

Bihar COVID-19 Update: बिहार में फिर से कोरोना ने अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है. पिछले 72 घण्टे में स्वास्थ्य विभाग से जो आंकड़े मिल रहे हैं, वो बेहद डराने वाले हैं. सूबे 600 से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार में फिर से कोरोना वायरस के संक्रमण ने अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है. पिछले 72 घण्टे में स्वास्थ्य विभाग से जो आंकड़े मिल रहे हैं वो बेहद डराने वाले हैं. इन आंकड़ों के मुताबिक अब तक 600 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिनमें अधिकांश वो लोग हैं, जो होली की छुट्टी में दूसरे प्रदेशों से बिहार लौटे हैं. होली के ठीक बाद ऐसे बहुत से लोग फिर से दिल्ली, मुंबई और दूसरे प्रदेशों में काम की तलाश में लौटने शुरू कर दिए हैं. पटना जंक्शन पर प्रवासी मजदूरों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. पटना से दिल्ली और दूसरे जगहों को जानेवाली कई ट्रेनों में प्रवासी मजदूर अपने-अपने जगहों पर काम पर लौट रहे हैं.

पटना रेलवे स्टेशन और पटना से दिल्ली जाने वाली कुछ ट्रेनों में जब न्यूज-18 की टीम पड़ताल करने पहुंची तो हमने देखा कि बहुत सारे लोगों ने संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाए थे, लेकिन बहुत ऐसे भी यात्री थे, जिन्होंने मास्क रहते हुए भी नहीं लगाया था. रेलवे पुलिस पूरी तत्परता से ट्रेन में सफर कर रहे उन यात्रियों को मास्क और सोशल डिस्टनसिंग का पालन करने की हिदायत दे रही है. पटना जंक्शन पर रेलवे की तरफ से सेनेटाइजेशन और जांच की भी व्यवस्था की गई है. लेकिन बहुत बड़ी संख्या में लोग बिना सेनेटाइज कराए ही लगेज स्टेशन के अंदर ले जा रहे हैं.

यात्रियों ने बताई अपनी मजबूरी

होली के मौके पर घर लौटे प्रवासी मजदूर अब फिर से अपने काम पर लौटना शुरू कर हो गए हैं. जब एक प्रवासी मजदूर संतोष से पूछा कि कोरोना के फिर से खतरे को लेकर उन्हें कितना डर है. इसपर संतोष बहुत मायूसी से कहता है कि सर, क्या करेंगे आखिर रोजी-रोटी का सवाल है काम तो करना ही पड़ेगा. डर तो लगता है लेकिन बिहार में जो मेरा परिवार है, उनके भरण पोषण के लिए तो ऐसा रिस्क तो लेना ही पड़ेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज