पत्नी की हत्या के लिए पति ने बैंक से लिया लोन, साली के प्यार में उठाया ये कदम
Patna News in Hindi

पत्नी की हत्या के लिए पति ने बैंक से लिया लोन, साली के प्यार में उठाया ये कदम
पटना पुलिस ने किया पेशेवर अपराधियों से पत्नी की हत्या करवाने के मामले का खुलासा.

इस कांड का उदभेदन पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी. आरोपी पति शंभू से जक्कनपुर थाने पर पूछताछ शुरू हुई तो पहले उसने अनभिज्ञता जाहिर की. फिर...

  • Share this:
पटना. साली से इश्क लड़ा रहे पति द्वारा अपनी पत्नी की हत्या करवाने का सनसनीखेज मामला (Sensational case) सामने आया है. बताया जा रहा है कि इसके लिए पेशेवर अपराधियों (Professional criminals) का इस्तेमाल किया गया. घटना गोपालपुर थाना क्षेत्र की है जहां 9 जुलाई को गर्भवती रूबी देवी की अपराधियों के बीच सड़क गोली मारकर हत्या कर दी थी. तफ्तीश में जुटी पुलिस ने इस बात का खुलासा किया है रूबी से पति शंभू रजक के ताल्लुक अच्छे नहीं थे लिहाजा दो बेटियों के बाद तीसरी बेटी होने की आशंका को लेकर पति ने रूबी की हत्या करवा दी.  रूबी की हत्या करने वाले अपराधी जक्कनपुर थाना क्षेत्र के हैं जिन्हें एडवांस के तौर पर 50,000 भी दिए गए थे. फिलहाल आरोपी पति ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है.

बैंक से लोन लेकर दिया मर्डर का ठेका

मिली जानकारी के अनुसार पटना के परसा बाजार के झाईचक निवासी पति शंभू की सिपारा में लॉंड्री  है.  पिछले अक्टूबर जककनपुर थाना क्षेत्र में रहनेवले अपराधी ऋषि से दुकान पर ही शंभू की मुलाकात हुई थी. तब उसने ऋषि को बताया कि उसे साली से प्रेम है और पत्नी रूबी का काम तमाम करना है.  इसके बदले अपराधी ने तीन लाख रुपये की मांग की. फिर ढाई लाख रुपये पर बात बन गई. अपराधी ने एडवांस में 50 हजार रुपये और हत्या के बाद दो लाख रुपये की मांग की थी, लेकिन शंभू के पास  20 हजार रुपये ही थे. इसके बाद शंभू ने बैंक से 30 हजार रुपए लोन लिया. अपराधी को जनवरी में दुकान पर बुलाकर 50 हजार रुपये एडवांस दिए.



पति ने तैयार किया पत्नी की हत्या का प्लान
जनवरी में ही शंभू ने अपराधी को बताया था कि पत्नी की हत्या ऐसी जगह करनी है, जहां पुलिस को यही लगे कि ओवरटेक करने के चक्कर में किसी ने गोली मार दी. पांच जुलाई को ऋषि ने शंभू को जक्कनपुर में बुलाया. वहां उसका साथी नवीन भी था. शंभू ने अपराधियों को बताया कि वह पत्नी रूबी को बाइक से उसके मायके लोहानीपुर लेकर जाएगा और साथ में दोनों बच्चे भी रहेंगे. उसने अपराधियों को बताया कि गुरुवार को पत्नी और बच्चों को लेकर वापस गांव लौटेगा. किस रास्ते गुजरेगा, समय क्या होगा, सब बता दिया। साथ ही तय हुआ कि चैनपुर गांव के पास वारदात को अंजाम देना है. इस बीच शंभू ने अपराधियों से एक बार भी मोबाइल से बातचीत नहीं की.

आरोपी पति ने घटना को यूं दिया अंजाम

तय समय पर शंभू पत्नी और दोनों बच्चों को बाइक पर बैठाकर जगनपुरा मोड़ पर पहुंचा. वहां से चैनपुर की दूरी करीब आधा किलोमीटर है. जगनपुरा मोड़ से ही अपराधियों को पीछे लगना था, लेकिन शंभू को पल्सर बाइक सवार दोनों अपराधी जब नहीं दिखे तब फिर वह एक दुकान में रुक गया.  चंद मिनट बाद ही पल्सर सवार दोनों अपराधी आते दिखे. तब वह पत्नी और बच्चों को बाइक पर बैठाकर चैनपुर गांव की तरफ बढ़ गया. इसी बीच अपराधियों ने 30 वर्षीय रूबी देवी की गोली मारकर हत्या कर दी. गोली कुख्यात और कई कांडों को अंजाम दे चुके अपराधी ऋषि ने मारी थी और उसका साथी नवीन बाइक चला रहा था.

पटना पुलिस के सामने थी बड़ी चनौती

इस कांड का उदभेदन पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी. पति शंभू से जक्कनपुर थाने पर पूछताछ शुरू हुई तो उसने अनभिज्ञता जाहिर की. लेकिन गुरूवार की देर रात पटनां एस एसपी उपेन्द्र शर्मा सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार और जककनपुर थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने साढ़े पांच घंटे की पूछताछ में पगि शंभू को तोड़ दिया. पति ने असखिरकार अपना जुर्म कबूल कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading