Home /News /bihar /

पटना में 137 किमी लंबा होगा रिंग रोड, गोलाकार पथ पर दिखेगा गांधी मैदान से गंगा तक का नजारा

पटना में 137 किमी लंबा होगा रिंग रोड, गोलाकार पथ पर दिखेगा गांधी मैदान से गंगा तक का नजारा

Patna Ring Road Project: पटना में रिंग रोड परियोजना को मंजूरी मिल गई है, साथ ही बिहार के 5 अन्य शहरों के लिए प्रस्ताव को मंजूरी दी जानी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna Ring Road Project: पटना में रिंग रोड परियोजना को मंजूरी मिल गई है, साथ ही बिहार के 5 अन्य शहरों के लिए प्रस्ताव को मंजूरी दी जानी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna Ring Road: पटना में जो रिंग रोड बन रहा है वह बिहटा में बनने वाले नये अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के पास से शुरू होकर कन्हौली (प्रस्तावित बस स्टैंड) होते हुए नौबतपुर, डुमरी, बेलदारीचक, रामनगर, सबलपुर, बिदुपुर (वैशाली), सराय, अस्तिपुर, नयागांव, दिघवारा (सारण), शेरपुर होते हुए कन्हौली में आकर मिलेगा. केंद्र व राज्य सरकार की इस साझा परियोजना की लागत 15 हजार करोड़ है. 137.5 किलोमीटर लंबी इस परियोजना में 4 और 6 लेन सड़क बनाई जाएंगी. साथ ही, गंगा नदी पर दो नए पुल भी बनाए जाने हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में पथ निर्माण विभाग लगातार नई योजनाएं सामने ला रहा है जिससे प्रदेश के लोगों के लिए यातायात की व्यवस्था सुगम की जा सके. इसी क्रम में बिहार के विभिन्न प्रमुख शहरों में रिंग रोड बनाए जाने का प्रस्ताव है. अभी केवल प्रदेश की राजधानी पटना में रिंग रोड का निर्माण हो रहा है. लेकिन, राजधानी की तर्ज पर राज्य के अन्य प्रमुख शहरों में रिंग रोड बनाने के लिए पिछले दिनों पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने केंद्रीय सड़क एवं राजमार्ग परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक की थी. अब खबर यह है कि पांच शहरों में से राज्य के तीन शहरों का नाम फाइनल हो चुका है. ये तीन शहर हैं गया, भागलपुर और मुजफ्फरपुर, जबकि बाकी दो शहरों में भोजपुर, कटिहार, बेगूसराय, छपरा, दरभंगा पर विचार चल रहा है. पथ निर्माण विभाग के इस प्रस्ताव पर केंद्र सरकार ने सैद्धांतिक सहमति दे दी है.

जानकारी के अनुसार शहरों के चयन की प्रक्रिया चल रही है. सर्वे सहित अन्य बुनियादी काम कर पथ निर्माण विभाग केंद्र सरकार को प्रस्ताव सौंपेगा, ताकि रिंग रोड का निर्माण हो सके. पटना के अतिरिक्त राज्य के अन्य प्रमुख शहरों की उपयोगिता, ऐतिहासिक महत्व, पर्यटकीय दृष्टिकोण के अलावा बढ़ते ट्रैफिक दबाव और लोगों को सुविधायुक्त सफर के उद्देश्य से रिंग रोड बनाने का प्रस्ताव मंत्री ने रखा, जिसे मंत्रालय के अधिकारियों ने स्वीकार कर लिया. केंद्र की सैद्धांतिक सहमति मिलते ही पथ निर्माण विभाग ने शहरों के चयन का काम शुरू कर दिया है.

पटना की तरह 5 शहरों में रिंग रोड

यह भी जानकारी सामने आई है कि संभावित शहरों में यातायात लोड का आकलन भी शुरू कर दिया गया है. विभागीय अधिकारियों से मिली गैरआधिकारिक जानकारी के अनुसार भोजपुर और दरभंगा में रिंग रोड बनाने के नाम पर लगभग सहमति बन गई है. इन शहरों के ट्रैफिक लोड सर्वे के बाद पांचों शहरों का नाम केंद्रीय सड़क एवं राजमार्ग परिवहन मंत्रालय को भेजा जाएगा ताकि उस पर आगे काम हो सके.केंद्र की सहमति हुई तो पटना की तर्ज पर ही अन्य शहरों के रिंग रोड का निर्माण करने में भी राज्य सरकार सहयोग करेगी. रिंग रोड में चयनित शहरों की नई-पुरानी सड़कों को शामिल किया जाएगा.

बिहटा एयरपोर्ट से होगा कनेक्शन

पटना में जो रिंग रोड बन रहा है वह बिहटा में बनने वाले नये अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के पास से शुरू होकर कन्हौली (प्रस्तावित बस स्टैंड) होते हुए नौबतपुर, डुमरी, बेलदारीचक, रामनगर, सबलपुर, बिदुपुर (वैशाली), सराय, अस्तिपुर, नयागांव, दिघवारा (सारण), शेरपुर होते हुए कन्हौली में आकर मिलेगा. इस परियोजना का काम मुख्य तौर पर दो चरणों में हो रहा है. रिंग रोड का एलाइन्मेंट पहले ही पास हो चुका है. सरकार ने पहले ही इसकी स्वीकृति दे दी है. केंद्र व राज्य सरकार की इस साझा परियोजना की लागत 15 हजार करोड़ है. 137.5 किलोमीटर लंबी इस परियोजना में 4 और 6 लेन सड़क बनाई जाएंगी. साथ ही, गंगा नदी पर दो नए पुल भी बनाए जाने हैं. रिंग रोड में गंडक नदी पर वर्तमान पुल के बगल में एक नया पुल बनेगा.

Tags: Bihar latest news, Patna News Update

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर