COVID-19: RJD का आरोप- बिहार में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी
Patna News in Hindi

COVID-19: RJD का आरोप- बिहार में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी
आरजेडी (RJD) ने कहा कि बिहार (Bihar) में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी देखने को मिल रही हैं. यह चिंता का विषय हैं.

आरजेडी (RJD) ने कहा कि बिहार (Bihar) में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी देखने को मिल रही हैं. यह चिंता का विषय हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2020, 2:20 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में तबलीगी जमात के सम्मेलन और उसमें एक कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर आरजेडी और आरएलएसपी की तरफ़ से बयान आया है. न्यूज़ 18 के सवाल पर आरजेडी सांसद मनोज झा ने कहा हम एक अभिशापित राज्य में जी रहे हैं. यह उसी प्रक्रिया का हिस्सा है कि हम सोते रहे, सब आराम से हो जाएगा. मनोज झा ने सवाल खड़ा किया कि सम्मेलन के लिए किसने परमिशन दिया, कैसे हुआ सम्मेलन इसमें क़ानून अपना काम करे.

बिहार में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी 
उन्होंने कहा कि फ़िलहाल इसमें हमारी कोशिश होनी चाहिए कि दानवीकरण न हो, आपराधिकरण न हो नहीं तो लोग इस तरह के मामलों में छुपते हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में ट्रैक, टेस्ट और ट्रीट तीनों की कमी देखने को मिल रही हैं. यह चिंता का विषय हैं. इसको नेता प्रतिपक्ष ने भी शेयर किया है.

आपराधिकारण और दानवीकरण की कोशिश
आरजेडी का आरोप है कि कोरोना महामारी के वक़्त आपराधिकारण और दानवीकरण की कोशिश की जा रही है. एक नैरेटिव बनाने की कोशिश की जा रही है. जिससे लोग छिपने लगे हैं. इस महामारी में कुरीतियां, विकृतियां, घृणा, विद्वेष सब निकलकर सामने आ रहा है. जिनकी तारीफ़ होनी चाहिए उनकी तारीफ़ न होकर उन पर पत्थर फेंके जा रहे हैं. और यह क्यों हो रहा है? क्योंकि पूरा का पूरा विमर्श जो है आपराधिकारण और दानवीकरण इस पर है और इसमें एक जो संवेदना होनी चाहिए उसका अभाव दिखा है. उसकी वजह से ये सब हो रहा है.



समाज को गहन चिंतन करना होगा...
उन्होंने कहा, मैं एक उदाहरण देकर बता सकता हूं. मुम्बई-दिल्ली में बिहार के लोगों को कोरोना करियर कह रहे हैं. ऐसा वो लोग कह रहे हैं जिनके घरों में वे (बिहार के लोग) सब्ज़ी पहुंचाते थे. जिनके घरों के बाहर वे सुरक्षा गार्ड का काम करते थे. ये समाज का दोष है. पूरे समाज को गहन चिंतन करना होगा कि आख़िर यह हो क्यों रहा है. जिनकी तारीफ़ में हम ताली और थाली बजाते हैं, उनके ऊपर यह हो रहा है. यह हमारी सभ्यता पर भी चोट है.

आरएलएसपी का बयान आरजेडी से थोड़ा अलग
लेकिन इस मुद्दे पर सहयोगी आरएलएसपी का बयान आरजेडी से थोड़ा अलग है. बिहार में विपक्षी महागठबंधन में आरजेडी की सहयोगी आरएलएसपी ने तबलिगी जमात के मरकज़ को लेकर सवाल किया है. आरएलएसपी के प्रधान महासचिव माधव आनंद ने कहा है कि जो भी मरकज में शामिल हुए लोग थे उन्हें सामने आना चाहिए. वरना इस तरह के लोगों के ऊपर कारवाई होनी चाहिए और उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाना चाहिए. इसके पहले भी आरएलएसपी ने दिल्ली के निज़ामुद्दीन में हुए मरकज़ के बाद भी सख़्त कारवाई की मांग की थी. दिल्ली के मरकज़ के बाद अब बिहार में हुए मरकज़ के ख़ुलासे ने सबकी नींद उड़ा दी है.



ये भी पढ़ें:  दिल्ली हाईकोर्ट ने दो महिला डॉक्टरों पर हमला करने के आरोपी को दी जमानत

दिल्ली हिंसा : अदालत ने जामिया के छात्र को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज