लाइव टीवी

Jharkhand Election Result 2019: बिहार में राजद-कांग्रेस ने मनाया जश्न, बीजेपी और जदयू ने बताई हार की वजह
Patna News in Hindi

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: December 23, 2019, 9:35 PM IST
Jharkhand Election Result 2019: बिहार में राजद-कांग्रेस ने मनाया जश्न, बीजेपी और जदयू ने बताई हार की वजह
बिहार में राजद और कांग्रेस ने जहां झारखंड के चुनाव परिणामों पर जश्न मनाया, वहीं भाजपा-जदयू खेमे में निराशा दिखी.

झारखंड विधानसभा चुनाव के परिणाम (Jharkhand Election Result) ने बिहार (Bihar) की विपक्षी पार्टियों के लिए संजीवनी का काम किया है. मुख्य विपक्षी पार्टी राजद (RJD) और कांग्रेस (Congress) ने इस जीत का जश्न मनाया तो एनडीए में भाजपा (BJP) और जदयू (JDU) ने हार के कारणों की समीक्षा की.

  • Share this:
पटना. झारखंड विधानसभा चुनाव के परिणामों (Jharkhand Election Result) ने बिहार (Bihar) की विपक्षी पार्टियों को संजीवनी दे दी है. वहीं, एनडीए (NDA) में भाजपा (BJP) और उसकी सहयोगी जदयू (JDU) के लिए यह हार बड़े सबक के तौर पर आई है. यही वजह है कि हार भले ही पड़ोसी राज्य में हुई हो, लेकिन बिहार भाजपा कार्यालय में मायूसी साफ दिख रही थी. वहीं, जदूय की तरफ से एनडीए में सहयोगियों को महत्व न देने को लेकर बयान आया. साथ ही यह भी कहा गया कि 2020 में 'ऐसी गलती नहीं होगी'. जाहिर है इस चुनावी परिणाम पर बिहार की सियासत आने वाले दिनों में तेज होगी. इसकी झलक सोमवार को दिखी भी, जब राजद (RJD) और कांग्रेस (Congress) पार्टी ने इस जीत का जोरदार जश्न मनाया.

राजद ने कहा- झारखंड तो झांकी है...
झारखंड में जीत की खबरों पर राजद ने कहा कि 'झारखंड तो झांकी है, पूरा बिहार बाकी है'. राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि झारखंड की जनता ने भाजपा के गुरूर को चकनाचूर कर दिया है. झूठ-फरेब की राजनीति और देश को सांप्रदायिकता की आग में झोंककर चुनाव जीतने वाली भाजपा को झारखंड की जनता ने करारा जबाब दिया है. राजद नेता ने कहा कि अब 2020 के चुनाव में भी एनडीए सरकार का सफाया हो जाएगा और बिहार में तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार बनेगी.

राजद नेता मृत्युंजय तिवारी और कांग्रेस के प्रेमचंद मिश्रा.


कांग्रेस बोली- जनता ने दिया जवाब
बिहार के पड़ोसी राज्य में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद कांग्रेस ने कहा कि झारखंड में भाजपा के झूठ को जनता ने बेनकाब कर दिया. कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि झारखंड में स्थानीय मुद्दों को छोड़ कर पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने जनता को बरगलाने का काम किया था. भाजपा सरकार ने पिछले 5 साल में क्या काम किया, इसके बजाये पीएम मोदी और अमित शाह ने राम मंदिर, एनआरसी और CAA जैसे समाज को बांटने वाले मुद्दों पर लोगों की भावनाएं भड़काने की कोशिश की. इस चुनाव में जनता ने इसका जवाब दे दिया है. कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि अब बिहार से भी नीतीश सरकार की विदाई तय है.

बिहार भाजपा ने बताई हार की वजहझारखंड में रघुवर सरकार की हार के बाद बिहार भाजपा का कहना है कि हार के कारणों की समीक्षा की जाएगी. भाजपा के प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि हमारी सीट भले ही कम आई हो, लेकिन हमारा वोट प्रतिशत बढ़ा है. भाजपा ने कहा कि रघुवर सरकार ने झारखंड के विकास के लिए काफी काम किया, लेकिन विपक्ष ने जनता को बरगला कर जीत हासिल की. अगर जनता नाराज होती तो हमारा वोट प्रतिशत नहीं बढ़ता. भाजपा ने माना कि आजसू से गठबंधन नहीं होना और विपक्ष की एकजुटता भारी पड़ गई.

RJD and Congress celebrating on Jharkhand Election Result 2019-BJP and JDU explains defeat
जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन और भाजपा के नेता प्रेम रंजन पटेल.


 

एनडीए पर असर नहीं- जदयू
चुनाव परिणामों को लेकर जदयू ने आक्रामक ढंग से महागठबंधन पर हमला बोला. जदयू नेता राजीव रंजन ने कहा कि झारखंड में महागठबंधन ने संयुक्त होकर चुनाव लड़ा. लेकिन झारखंड बनने के बाद पहली बार पांच साल की सरकार देने वाली भाजपा ने सहयोगियों के साथ ही गठबंधन नहीं किया. उन्होंने कहा कि अगर भाजपा, आजसू और जदयू के साथ लोजपा से भी गठबंधन कर चुनाव लड़ती, तो नतीजे अलग होते. कांग्रेस और राजद के बयान पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि 2020 में नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए 220 से ज्यादा सीटें जीतेगी. जदयू नेता ने यह भी कहा कि झारखंड की गलती अब नहीं दोहराई जाएगी. 2020 में राजद-कांग्रेस जैसी भ्रष्टाचारी पार्टियों को समझ में आ जाएगा कि अभी जिस तरह से वे मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं, वह कितना गलत था.

 

ये भी पढ़ें -

 

Jharkhand Election Result 2019: एकजुट होकर लड़ता NDA तो अलग होते चुनाव परिणाम, जानिए क्यों

 

Jharkhand Election Result 2019: बिहार की राजनीति पर होंगे ये 5 बड़े असर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 23, 2019, 9:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर