Home /News /bihar /

कुशवाहा को लेकर सियासत तेज, महागठबंधन में शामिल होने का मिला ऑफर

कुशवाहा को लेकर सियासत तेज, महागठबंधन में शामिल होने का मिला ऑफर

आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी (फाइल फोटो)

आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी (फाइल फोटो)

जेडीयू के बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने उपेंद्र कुशवाहा को लेकर शुक्रवार को बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि इनके जाने से एनडीए की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

    केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा को लेकर बिहार की सियासत तेज हो गई है. एक ओर जेडीयू कुशवाहा को भाव नहीं दे रही है, वहीं आरजेडी अपने आपको कुशवाहा का हितैषी बताने में जुटी है. आरजेडी प्रवक्ता मृत्युजंय तिवारी ने उन्हें सलाह देते हुए कहा कि बहुत हो गई. अब आप अपनी बेइज्जती का जवाब महागठबंधन में शामिल होकर एनडीए को दे दें.

    बताते चलें कि जेडीयू के बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने उपेंद्र कुशवाहा को लेकर शुक्रवार को बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि इनके जाने से एनडीए की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

    हालांकि वशिष्ठ नारायण सिंह के बयान से बीजेपी ने किनारा कर लिया है. पार्टी के नेता संजय टाइगर ने कहा है कि उपेंद्र कुशवाहा एनडीए के महत्वपूर्ण अंग हैं और हमलोग बड़ा लक्ष्य लेकर चल रहे हैं. उन्होंने उम्मीद जताई कि कुशवाहा बीजेपी के साथ ही रहेंगे.

    वहीं, आरएलएसपी नेता प्रदीप मिश्र ने कहा कि उनकी पार्टी वशिष्ठ नारायण सिंह की बातों को गंभीरता से नहीं लेती है. उन्होंने कहा कि उनकी बात बीजेपी से हो रही है क्योंकि रालोसपा का गठबंधन बीजेपी से ही है. उन्होंने ये भी दावा किया कि मामले को खत्म करने के लिए जरूरत हुई तो पार्टी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी बात करेगी.

    ये भी पढ़ें-

    वशिष्ठ नारायण सिंह बोले, जेडीयू में आने वालों का स्वागत, रालोसपा का पलटवार

    प्रधानमंत्री कार्यालय की मिलीभगत से हो रहा हमारे परिवार का चरित्र हनन : तेजस्वी यादव

    बिहार डीजीपी बोले, मंजू वर्मा पर अपराधी की तरह होगी कार्रवाई, कुर्की का दिया आवेदन

    Tags: Bihar NDA, RJD, Upendra kushwaha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर