लाइव टीवी

शरजील इमाम पर एकजुट हुईं बिहार की सियासी पार्टियां, कहा- देशद्रोहियों पर लें सख्त एक्शन
Patna News in Hindi

RaviS Narayan | News18 Bihar
Updated: January 27, 2020, 2:24 PM IST
शरजील इमाम पर एकजुट हुईं बिहार की सियासी पार्टियां, कहा- देशद्रोहियों पर लें सख्त एक्शन
बिहार की अधिकतर राजनीतिक दलों ने शरजील इमाम की गिरफ्तारी की मांग की है.

शरजील इमाम के भाषण के बाद मचे घमासान के बीच जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने इसे देशद्रोह बताते हुए कार्रवाई की मांग उठाई है. जेडीयू नेता ने कहा कि ऐसे लोगों का किसी धर्म या सम्प्रदाय से कोई मतलब नहीं.

  • Share this:
पटना. जेएनयू (JNU) के स्टूडेंट और बिहार के जहानाबाद के निवासी शरजील इमाम (Sarjeel Imam) के अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में दिए गए उस बयान ने पूरे देश मे सियासी भूचाल ला रखा है जिसमें उसने कहा था कि असम (Asam) सहित उत्तर पूर्व भारत को शेष भारत से अलग कर दिया जाए. शरजील के इस बयान का वीडियो वायरल होने के बाद कई राज्यों में उसके खिलाफ केस दर्ज किया गया है और केंद्रीय जांच एजेंसी उसकी गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही हैं. इधर शरजील के परिवारवालों का कहना है कि उसने ऐसी कोई बात नहीं की जिससे देश को खतरा हो. वहीं बिहार की सियासी पार्टियों ने ऐसे बयान देने वालों के खिलाफ एक स्वर में सख्त करवाई की मांग की है.

जेडीयू ने भी बताया देशद्रोह
शरजील इमाम के भाषण के बाद मचे घमासान के बीच जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने इसे देशद्रोह बताते हुए कार्रवाई की मांग उठाई है. जेडीयू नेता ने कहा कि ऐसे लोगों का किसी धर्म या सम्प्रदाय से कोई मतलब नहीं. पक्के सबूत के साथ ऐसे लोगों पर कठोर करवाई की जानी चाहिए. बिहार सरकार केंद्र को हर समर्थन देगी.

कांग्रेस आरजेडी के नेताओं ने कार्रवाई की मांग उठाई

शरजील के भाषण को देशद्रोही बताते हुए कांग्रेस ने देश के खिलाफ़ बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने करवाई की मांग करते हुए कहा ऐसे बयान देशद्रोह की श्रेणी में आते हैं. ऐसे बयानों को किसी धर्म या सम्प्रदाय से जोड़कर नहीं देखा जा सकता. असम देश के हिस्सा है इसे तोड़ने की बात करनेवालों पर बिना देर किए सख्त करवाई होनी चाहिए. ऐसे मामलों में कांग्रेस साथ है.

वहीं आरजेडी प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने भी हमला बोलते हुए कहा कि ऐसे बयानों का समर्थन कोई नहीं कर सकता. ऐसे लोगों पर बिहार और केंद्र सरकार कार्रवाई सख्त करवाई करे.

सांसद  ने बताया एकता अखंडता खत्म करने की साजिशशरजील के बयान पर बीजेपी सांसद आर के सिन्हा ने तीखा हमला करते हुए देशद्रोह का बड़ा मामला बताया है. वहीं शाहीनबाग में चल रहे धरना प्रदर्शन पर भी सवाल खड़ा किया. आर के सिंह ने कहा कि असम को अलग करने की मांग जिन्ना ने भी किया था. ऐसे लोगों को भारत विरोधी ताकतों से पैसा और समर्थन दोनों मिल रहा है.

उन्होंने कहा कि इस पूरे आंदोलन के पीछे भारत की एकता और अखंडता खत्म करने की बड़ी साजिश है. शाहीनबाग के लोग चाहते हैं कि भारत धर्मनिरपेक्ष न रह जाए, भारत इस्लामिक वीटो के आधार पर चले, ऐसा नहीं होगा.

शरजील के पिता ने सरेंडर करने को कहा
शरजील के बयान के बाद बिहार में पटना और जहानाबाद में कई जगहों पर छापेमारी हुई है. इस बीच उसके परिजनों ने सरेंडर करने की बात कही है. शरजील की मां ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि उसे फंसाया जा रहा है, उसे सामने आकर अपनी बात रखनी चाहिए.

ये भी पढ़ें


JDU के टिकट पर चुनाव लड़े थे शरजील के पिता अकबर इमाम, पूर्व सांसद के साथ रहता है छोटा भाई




बिहार में भी कोरोना वायरस का खौफ ! हाई अलर्ट पर पीएमसीएच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 2:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर