अपने MLA और MLC से हर महीने 10 हजार रुपए लेगा राजद, JDU बोली- पैसों के भूख की भी सीमा होती है

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

जेडीयू के नेता अजय आलोक (JDU leader Ajay Alok) ने लिखा, पहले टिकट के लिए पैसा दो, जीतने के बाद तनख़्वाह में कमीशन दो, हार गए हो तो पेंशन में कमीशन दो, अबे नोट खाते हो क्या ?

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 3:26 PM IST
  • Share this:
पटना. विधानसभा चुनाव परिणाम (Bihar Assembly Election Results) के बाद राष्ट्रीय जनता दल (RJD) व उनके नेता लगातार किसी न किसी वजह से सुर्खियों में हैं. हाल में उनके बिहार से गायब होने को लेकर सत्ताधारी दल हमलावर रहे तो अब आरजेडी एक और मुद्दे पर घिरती नजर आ रही है. दरअसल सूत्रों व मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से खबर है कि आरजेडी ने अपने सभी विधायकों और विधान परिषद के सदस्यों को लेकर निर्देश जारी किया है. उसमें कहा गया है कि हर महीने 10 हजार रुपए पार्टी के फंड में जमा करें. अब इस मसले पर जेडीयू ने आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर हमला किया है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि पहले 25 हजार रुपए हर माह जमा करने को प्रस्ताव था, लेकिन इसका विधायकों ने विरोध किया, तब बात 10 हजार रुपए पर बनी. अब 75 विधायक और विधान परिषद के सदस्यों को हर माह पार्टी फंड में 10 हजार रुपए जमा करना होगा. पूर्व विधायक और विधान पार्षदों को भी पैसा जमा करना होगा. इनलोगों को 4 हजार रुपए हर माह देना होगा.

अब इस मसले को लेकर जेडीयू ने एक बार फिर राजद को घेरा है. पार्टी के नेता अजय आलोक ने मीडिया रिपोर्ट में प्रकाशित खबरों को शेयर करते हुए ट्वीट कर हमला किया है. उन्होंने लिखा, पहले टिकट के लिए पैसा दो, जीतने के बाद तनख़्वाह में कमीशन दो, हार गए हो तो पेंशन में कमीशन दो, अबे नोट खाते हो क्या ? भूख की सीमा होती है, पैसा के मामले में लालू प्रसाद जी आपसे आगे निकल गया ये, कुबेर के राक्षसी साधक हैं ये.

अजय आलोक के ट्वीट का स्क्रीन शॉट.

बता दें कि मीडिया जो खबरें प्रकाशित हुई हैं उसके अनुसार विधान पार्षदों व विधायकों को राजद की ओर से से बताया गया है कि यह पैसा हर जिलों में पार्टी के ऑफिस के किराया और संगठन के खर्चा का काम आएगा. बीजेपी की तर्ज पर हर जिलों में पार्टी का ऑफिस होगा. आरजेडी के जिला ऑफिस को भी हाईटेक बनाया जाएगा. जिसमें यह पैसा मददगार साबित होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज