Bihar Election Result: उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान, बोले- हम बस चुनाव हारे हैं, हिम्मत नहीं !

ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट ने कुशवाहा को सीएम प्रत्‍याशी बनाया था. (फाइल फोटो)
ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट ने कुशवाहा को सीएम प्रत्‍याशी बनाया था. (फाइल फोटो)

Bihar Election Result: बिहार विधानसभा चुनाव में ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट के नेता उपेंद्र कुशवाहा (Upendra kushwaha) ने अपनी हार स्‍वीकार कर ली है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 10, 2020, 10:25 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा (Upendra kushwaha) ने अपनी हार स्‍वीकार कर ली है. उन्‍होंने ट्वीट किया, 'दोस्तों, हां, हम चुनाव हार गए. मगर ध्यान रहे, बस चुनाव हारे हैं, हिम्मत नहीं! आपको बता दें कि चुनाव से कुछ दिन पहले कुशवाहा ने महागठबंधन का साथ छोड़कर छह पार्टियों के गठबंधन से तैयार तीसरे मोर्चे ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट (Grand Democratic Secular Front(GDSF) का गठन किया था. जबकि चुनाव में जीडीएसएफ ने उपेंद्र कुशवाहा के नेतृत्‍व में ही हुंकार भरी थी, लेकिन मतगणना के रुझानों में वह कहीं दिख नहीं रहा है.

इन दलों ने बनाया था तीसरा मोर्चा
बिहार चुनाव से पहले बने ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट में कुशवाहा की रालोसपा, असदुद्धीन ओवैसी की AIMIM, मायावती की बसपा, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, समाजवादी जनता दल डेमोक्रेटिक और जनतांत्रिक पार्टी (समाजवादी) शामिल हैं. जबकि उम्मीद की जा रही थी कि ये 6 पार्टियां राज्य में 10 फीसदी वोट हासिल करने का दमखम रखती हैं और अगर चुनाव कड़ा हुआ, तो ये पार्टियां किंग मेकर साबित हो सकती हैं. हालांकि ऐसा कुछ नहीं हुआ है.





बहरहाल, फ्रंट की तीन बड़ी पार्टियां रालोसपा 104, बसपा 80 और एआईएमआईएम 20 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं. इस चुनाव में ओवैसी की पार्टी सीमांचल में कुछ सीटें जीतने की उम्‍मीद थी. जबकि औरंगाबाद, कैमूर, रोहतास, पूर्वी चंपारण, बक्सर, शेखपुरा, जमुई और मुंगेर रालोसपा के प्रभाव वाले क्षेत्र हैं. मायावती की बसपा की रोहतास, कैमूर और गोपालगंज में अच्छी पकड़ मानी जा रही है.



एनडीए और महागठबंधन में कड़ी टक्‍कर
बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर अब तक आए रुझानों में एनडीए बहुमत के करीब दिख रही है. जबक‍ि महागठबंधन भी नीतीश कुमार के चेहरे पर चुनाव लड़ रही एनडीए को कड़ी टक्‍कर दे रहा है. दोनों में कुछ ही सीटों का अंतर बना हुआ है. अब तक एनडीए 91 और महागठबंधन 85 सीट पर दर्ज कर चुका है. जबकि चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार राज्‍य की 20 सीटों पर वोटों का अंतर 1000 से भी कम है. जिसमें महागठबंधन की 11 सीटें और बीजेपी की छह सीटें हैं. ये आंकड़ा कभी भी ताजा रुझानों को बदल सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज