RSS जासूसी मामला: गिरिराज ने CM नीतीश की मंशा पर उठाए सवाल, सुशील मोदी से मांगा जवाब

गिरिराज सिंह ने कहा कि जेडीयू -बीजेपी के साथ सरकार में है और संघ हमारा मातृ संगठन है. उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी प्रदेश सरकार में हैं, उन्हीं से पूछना चाहिए कि ये क्या है? छानबीन की जरूरत क्‍यों पड़ी?

News18 Bihar
Updated: July 19, 2019, 11:43 AM IST
RSS जासूसी मामला: गिरिराज ने CM नीतीश की मंशा पर उठाए सवाल, सुशील मोदी से मांगा जवाब
गिरिराज सिंह ने कहा कि सुशील मोदी के सरकार में रहते आरएसएस की जांच कैसे हुई?
News18 Bihar
Updated: July 19, 2019, 11:43 AM IST
राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) और इससे जुड़े संगठनों की जांच के लिए बिहार पुलिस की विशेष शाखा की ओर से जारी पत्र पर सियासत थम नहीं रही है. अब इस मामले में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर निशाना साधा है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस बात पर सुशील मोदी से सवाल पूछा जाना चाहिए कि उनके सरकार में रहते यह कैसे हुआ? वहीं उन्होंने यह भी पूछा कि इतना बड़ा निर्णय आखिर सीएम नीतीश की इजाजत के बिना कैसे संभव हुआ?

गिरिराज सिंह का सुशील मोदी पर हमला
न्यूज 18 से बात करते हुए गिरिराज सिंह से जब ये पूछा गया कि आरएसएस प्रकरण में आपका क्या कहना है तो उन्होंने कहा कि यह किसी को समझ में नहीं आया क्या कारण था? जेडीयू-बीजेपी के साथ बिहार की सरकार में है और संघ हमारा मातृ संगठन है. उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सरकार में हैं, उन्हीं से पूछना चाहिए कि यह क्या है? क्यों छानबीन करने की जरूरत पड़ी?

सीएम नीतीश की मंशा पर गिरिराज ने उठाए सवाल

गिरिराज सिंह ने कहा कि यह घटना काफ़ी आपत्तिजनक है. इस घटना से लोगों में इतना आक्रोश है कि लोग पूछ रहे हैं कि हम सरकार में हैं या सरकार से बाहर? उन्होंने पूछा कि इतना बड़ा निर्णय बिना मुख्यमंत्री के इजाज़त के कैसे हुआ ये जांच का विषय है. सरकार का रिश्ता अपने ढंग से चलाना होता है, लेकिन जब ऐसी घटना सामने आती है तो पूरा परिवार प्रतिकार करता है. आज इस घटना पर सभी कार्यकर्ताओं ने प्रतिकार किया है.

'आरएसएस का चरित्र पारदर्शी'
केंद्रीय मंत्री ने  कहा कि संघ का चरित्र पारदर्शी है. संघ के ऊपर इस तरह से नाजायज तरीके से छानबीन करना उचित नहीं था. दोहरी सदस्यता के मुद्दे पर अटल बिहारी वाजपेयी ने इस्तीफा दे दिया था. संघ के सवाल पर कोई समझौता नहीं हो सकता. गिरिराज सिंह के इस बयान से बिहार की राजनीति में एक बार फिर राजनीतिक बयानबाजियों का दौर शुरू हो सकता है. हालांकि, इस विवाद को समाप्त करने की भी कोशिशें जारी हैं.
Loading...

विवाद खत्म करने की भी कवायद जारी
गौरतलब है कि बुधवार की शाम विशेष शाखा के एडीजी जेएस गंगवार ने सफाई देते हुए कहा कि इस मामले में पुलिस मुख्यालय, गृह विभाग और सरकार की न तो कोई भूमिका है, न कोई आदेश-निर्देश दिया गया था. इसके बाद देर शाम सीएम नीतीश कुमार ने इस मामले को गंभीरता से लिया और डीजीपी, गृह सचिव, एडीजी (सीआईडी) को तलब किया. मुख्यमंत्री ने अफसरों से पूरे मामले की जानकारी ली. उनको समुचित कार्रवाई करने को कहा था.

(इनपुट- अमितेश) 

ये भी पढ़ें- बाढ़ पीड़ितों के खाते में आज भेजे जाएंगे 6-6 हजार रुपये, साढ़े तीन लाख परिवारों को होगा लाभ


डकैती करने पहुंचे थे डकैत, गांव वालों ने तीनों को पीट-पीट कर मार डाला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 19, 2019, 10:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...