• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बिहार में जातीय जनगणना पर BJP- JDU नेता आमने-सामने, विधान मंडल के अंदर और बाहर प्रदर्शन

बिहार में जातीय जनगणना पर BJP- JDU नेता आमने-सामने, विधान मंडल के अंदर और बाहर प्रदर्शन

जाति आधारित जनगणना पर बिहार विधान मंडल में हंगामा व प्रदर्शन

जाति आधारित जनगणना पर बिहार विधान मंडल में हंगामा व प्रदर्शन

Monsoon Session of Bihar Legislature: एक तरफ BJP के MLC संजय पासवान मुखर होकर जातीय जनगणना का विरोध कर रहे थे, तो दूसरी ओर JDU के मंत्री श्रवण कुमार इसका समर्थन कर रहे थे.

  • Share this:

    पटना. बिहार विधानसभा के मानसून सत्र के आखिरी दिन (Last Day of Monsoon Session of Bihar Legislature) विरोधी दलों द्वारा विरोध-प्रदर्शन का क्रम जारी रहा. विधायकों ने कई मुद्दों पर विरोध प्रदर्शन किया. जातीय जनगणना को लेकर विधान सभा के साथ विधान परिषद में भी हंगामा देखने को मिला. कार्यवाही शुरू होने से पहले आरजेडी, मामले व कांग्रेस के विधायकों ने नारेबाजी भी की. सबसे दिलचस्प नजारा तब देखने को मिला जब जातीय जनगणना पर सत्ता पक्ष के बीजेपी-जेडीयू (BJP-JDU) के विधायक आमने सामने हो गए.

    दरअसल, एक तरफ BJP के MLC संजय पासवान मुखर होकर जातीय जनगणना के विरोध कर रहे थे तो  दूसरी तरफ JDU के मंत्री श्रवण कुमार इसका समर्थन कर रहे थे. जेडीयू नेता का कहना है कि जातीय जनगणना समय की मांग है और यह होने से समाज के सभी वर्गों को उनके अधिकार के हिसाब से हक मिलेगा. वहीं, संजय पासवान ने कहा कि जाति आधारित जनगणना की जरूरत नहीं है, बल्कि गरीबों की गणना होनी चाहिए.

    वहीं, RJD के रणविजय सिंह और कांग्रेस के अजीत शर्मा ने कहा कि जातीय जनगणना समाज में समता लाने के लिये आवश्यक है और इसकी पहल बिहार विधानसभा से पहले ही हो चुकी है. अब इसे लागू करने की पहल केंद्र सरकार को करनी चाहिए. आरजेडी एमएलसी सुनील सिंह ने कहा कि जेडीयू के इशारे पर जातीय जनगणना नहीं की जा रही है. जब सदन से पास करके भेजा जा चुका है, फिर जेडीयू चुप क्यों रहती है.

    बता दें कि विधान परिषद की कार्यवाही शुरू होने से पहले परिषद के बाहर आरजेडी नेताओं ने नारेबाजी की और प्रदर्शन किया. कटिहार में मेयर शिवराज पासवान की हत्या के मामले पर भी विरोध-प्रदर्शन किए गए. बिहार विधानसभा के सत्र में भाग लेने पहुंचे विपक्षी विधायक इस मसले को लेकर सरकार की घेराबंदी करने में लग गए. राजद विधायक मुकेश रौशन ने इस मामले को लेकर बिहार की विधि-व्यवस्था पर सवाल खड़ा किया.

    दसरी ओर, कांग्रेस विधायक प्रतिमा कुमारी ने दलित जाति के मेयर की हत्या पर आरोप लगाया कि बिहार में कोई भी जनप्रतिनिधि सुरक्षित नहीं है. माले ने भी कटिहार मेयर शिवराज पासवान की हत्या का मामला उठाया. माले विधायकों ने पटना में वार्ड सचिवों पर पुलिसिया लाठीचार्ज, राज्य में बाढ़ का प्रकोप और बेतिया जहरीली कांड में मृतकों के लिए मुवावजा की मांग को लेकर  बिहार विधानसभा में सदन के बाहर हंगामा किया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज