कोरोना से बचाव के लिए बने सैनिटाइजिंग टनल खतरनाक, बिहार सरकार ने लगाई रोक

अगर कोई व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है और उसे घर में ही आइसोलेट होने की सलाह दी जाती है तो उसे कुछ बातों का बहुत ख्‍याल रखना चाहिए ताकि घर के बाकी सदस्‍य संक्रमित न हों.
अगर कोई व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है और उसे घर में ही आइसोलेट होने की सलाह दी जाती है तो उसे कुछ बातों का बहुत ख्‍याल रखना चाहिए ताकि घर के बाकी सदस्‍य संक्रमित न हों.

Fight Against COVID-19: सैनिटाइजिंग टनल में स्प्रे के लिए जिन केमिकल का इस्तेमाल हो रहा है, उसे शरीर के लिए खतरनाक माना जा रहा है.

  • Last Updated: April 16, 2020, 9:07 AM IST
  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचने के लिए बिहार के कई शहरों में सैनिटाइजिंग टनल के निर्माण का काम चल रहा है. वहीं, डब्ल्यूएचओ ने इस तरह के टनल को संक्रमण रोकने में किसी भी तरह से प्रभावी नहीं माना है. माना जा रहा है कि ये काफी नुकसानदायक हो सकता है. दरअसल, इस टनल में स्प्रे के लिए जिन केमिकल का इस्तेमाल हो रहा है, उसे शरीर के लिए खतरनाक माना जा रहा है. इसमें प्रयोग होने वाला सोडियम हाइपोक्लोराइट और अन्य केमिकल मानव शरीर के कई अंगों के लिए खतरनाक हो सकते हैं. इसकी जानकारी दैनिक हिन्दुस्तान ने अपनी एक रिपोर्ट में दी है. इस रिपोर्ट के बाद कार्रवाई भी हुई. नगर विकास और आवास विभाग ने बुधवार को इसपर निर्देश जारी किए. निर्देश के अनुसार, इस तरह के टनल के प्रयोग को तुरंत रोकने को कहा गया है.

विभाग ने दिए ये निर्देश
अब नगर विकास एवं आवास विभाग ने निकायों को इस टनल को स्थापित नहीं करने का निर्देश दिया है. वहीं, सैनिटाइजेशन का काम पहले की तरह जारी रहेगा. जानकारी मिल रही है कि राजधानी पटना के राजेंद्र नगर इलाके की सब्जी मंडी में इसे लगाया गया था. इसके बाद यहां के प्रमुख हॉस्पिटल पीएमसीएच, एनएमसीएच और आईडीआईएमएस में इसको लगाने की प्रक्रिया शुरू की गई. इसके अलावा प्रदेश के सभी शहरी निकाय भी यह काम शुरू कर दिया गया. लेकिन मीडिया रिपोर्टस के बाद पीएमसीएच ने इसके काम को रोक दिया है.

स्वास्थ्य समिति ने बताया था खतरनाक
गौरतलब है कि बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यकारी निदेशक मनोज कुमार ने सैनिटाइजिंग टनल को खतरनाक बताया था. इसके साथ ही उन्होंने इस संबंध में गाइडलाइन जारी करने की बात कही थी. बता दें, नगर विकास और आवास विभाग ने बुधवार को इसपर निर्देश जारी किए हैं. इसमें तुरंत ऐसे टनल के प्रयोग को रोकने को कहा गया है.



 

ये भी पढ़ें:

बिहार: कोरोना को हराने की मुहिम! चार जिलों में शुरू हुई डोर टू डोर स्क्रीनिंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज