रूपेश सिंह हत्याकांड: मास्टरमाइंड ऋतुराज का फरार दोस्त सौरभ गिरफ्तार, उगला ये बड़ा राज

सौरभ हत्याकांड को अंजाम देने के बाद दिल्ली भी भाग गया था.

सौरभ हत्याकांड को अंजाम देने के बाद दिल्ली भी भाग गया था.

Rupesh Singh Murder Case: पटना पुलिस ने दावा किया है कि जिस तरीके से ऋतुराज अपने परिवार से अलग रहता था, ठीक उसी तरह सौरभ भी जीवन व्यतीत करता था. इस बात की जानकारी उनके परिजनों को नहीं है कि वह कहां और किसके साथ रहता है.

  • Share this:
पटना. बिहार के चर्चित रूप सिंह हत्याकांड में पटना पुलिस (Patna Police) ने फरार चल रहे दूसरे अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है. हत्याकांड के 72 दिन बाद इस अपराधी को पटना पुलिस पकड़ने में कामयाब रही. पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी सौरभ कुमार उर्फ पवन उर्फ खरहा है जो रूपेश हत्याकांड के मास्टरमाइंड ऋतुराज का दोस्त है. पटना पुलिस ने इस अपराधी को कुम्हरार इलाके से गिरफ्तार किया है जहां पर यह आईओसीएल कॉलोनी में किराए के एक मकान में रहता था. पटना पुलिस ने दावा किया है कि जिस तरीके से ऋतुराज अपने परिवार से अलग रहता था, ठीक उसी तरह सौरभ भी जीवन व्यतीत करता था. इस बात की जानकारी उनके परिजनों को नहीं है कि वह कहां और किसके साथ रहता है. इसके पास से एक पिस्टल और गोलियां भी बरामद की गई हैं जिसे एफएसएल जांच में भेजा जाएगा.

एसएसपी के मुताबिक इस अपराधी के ऊपर पहले से कई अपराधिक मामले दर्ज हैं. पटना के नौबतपुर और बिहटा में आर्म्स एक्ट के दो मामले 2018 में इसके ऊपर दर्ज किए गए थे. यह एक बार जेल भी जा चुका है. एसएसपी ने बताया कि हत्याकांड को अंजाम देने के बाद यह अपराधी पटना कंकड़बाग इलाके में छिप कर रहा था लेकिन ऋतुराज की गिरफ्तारी के बाद यह घबरा गया और फरार हो गया था. हत्याकांड के बाद सौरभ कंकड़बाग में अपनी बहन के यहां फिर बड़हिया फिर, अपने घर लखीसराय भी गया था.

हालांकि मिली जानकारी के अनुसार, वह हत्याकांड को अंजाम देने के बाद दिल्ली भी भाग गया था. एसएसपी ने दावा किया कि गिरफ्तारी से बचने के लिए सौरभ व्हाट्सएप कॉल पर ही बात करता था. उन्होंने कहा कि सौरभ ने भी ऋतुराज की तरह ही घटना की पूरी जानकारी पटना पुलिस को दी कि किस तरह रोडवेज के बाद इस घटना को अंजाम दिया गया है. एसएसपी ने बताया कि जरूरत पड़ने पर स्वभाव और ऋतुराज दोनों को रिमांड पर लिया जाएगा ताकि इनको आमने-सामने बिठाकर क्रॉस इंटेरोगेशन किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज