पटना AIIMS में हुआ कोरोना वैक्सीन का दूसरा ह्यूमन ट्रायल, 30 साल के युवक को दी गई डोज
Patna News in Hindi

पटना AIIMS में हुआ कोरोना वैक्सीन का दूसरा ह्यूमन ट्रायल, 30 साल के युवक को दी गई डोज
पटना एम्स में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल

पटना एम्स ने देश में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल किया था. इसके बाद रोहतक और दिल्ली एम्स ने भी इसका ट्रायल किया था.

  • Share this:
पटना. बिहार में जारी कोरोना त्रासदी के बीच पटना एम्स (Patna AIIMS) से बड़ी खबर आ रही है. एम्स में भारतीय फार्मा कंपनी 'भारत बायोटेक' के कोवैक्सिन नाम से विकसित टीके के क्लिनिकल ट्रायल के पहले चरण की सफलता के बाद दूसरे चरण का ट्रायल शुरू (Corona Vaccine Trial) कर दिया गया है. पटना एम्स में तीस वर्षीय युवक पर ट्रायल का दूसरा डोज दिया गया है.

पटना के 30 साल के युवक को दिया गया डोज

इसकी जानकारी पटना एम्स के अधीक्षक डॉ सी एम सिंह ने दी. उन्होंने कहा कि आज से ही वैक्सीन के दूसरे डोज की शुरुआत कर दी गई है. इस बार पटना जिला के रहनेवाले  30 वर्षीय युवक पर दूसरे डोज की शुरूआत की गई है. उसे एम्स पटना में बुलाया गया था और उसके बाद उसकी जांच कर बेहतर पाए जाने के बाद उस पर ट्रायल वैक्सीन डोज की तय मात्रा के अनुसार दिया गया है. यह डोज पटना एम्स के सीनियर डॉक्टर और वैक्सीन बनाने वाले वैज्ञानिकों की टीम की देखरेख में दिया गया.



लगातार की जा रही है मॉनिटरिंग
वैक्सीन देने के बाद दो घंटे उसे एम्स में रखने के बाद घर जाने की इजाजत दी गई. पटना एम्स के सूत्रों के मुताबिक फिलहाल उसकी मॉनिटरिंग मोबाइल फोन के जरिये और वीडिओ कांफ्रेंसिंग के जरिये की जा रही है. पटना एम्स में 15 जुलाई से ह्यूमन ट्रायल हुआ था जिसमें 56 लोगों को सेलेक्ट किया गया था. पहला डोज 15 जुलाई को दिया गया. 14 दिन के बाद दूसरा डोज देना था और जिस युवक को 15 तारीख को पहला डोज पड़ा उसको 14 दिन पूरा होने के बाद दूसरा डोज दिया गया है.

पटना एम्स ने सबसे पहले किया था ह्यूमन ट्रायल

एम्स के अधीक्षक सीएम सिंह ने बताया कि सभी स्वस्थ हैं और किसी पर भी इस वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट नहीं पड़ा है. मालूम हो कि पटना एम्स ने देश में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल किया था. इसके बाद रोहतक और दिल्ली एम्स ने भी इसका ट्रायल किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading