गर्मी से 100 से अधिक लोगों की मौत के बाद बिहार के इन 6 जिलों में धारा 144 लागू

इस आदेश के तहत सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक सरकारी और गैर-सरकारी निर्माण पर रोक लगाई गई है. साथ ही 11 बजे से शाम 4 के बीच खुले जगहों पर समारोह आयोजित कराने पर भी रोक लगा दी गई है.

News18 Bihar
Updated: June 18, 2019, 11:10 AM IST
गर्मी से 100 से अधिक लोगों की मौत के बाद बिहार के इन 6 जिलों में धारा 144 लागू
बिहार में लू के कहर से 100 से अधिक लोगों की मौत हुई है
News18 Bihar
Updated: June 18, 2019, 11:10 AM IST
बिहार में भीषण गर्मी और लू का कहर लगातार जारी है. लू के चलते सूबे में अभी तक 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग अस्पतालों में भर्ती है. सरकार द्वारा लोगों को बचाने के लिए जहां राहत और बचाव का काम जारी है वहीं कई जिलों में धारा 144 लगा दी गई है.

इन जिलों में लगाई गई धारा-144



सोमवार को गया में धारा-144 लगाये जाने के बाद मंगलवार को राज्य के पांच अन्य जिलों गोपालगंज, जहानाबाद, सीतामढ़ी, मधुबनी और दरभंगा में भी जिला प्रशासन ने धारा-144 लगा दी है. इस आदेश के तहत सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक सरकारी और गैर-सरकारी निर्माण पर रोक लगाई गई है. साथ ही 11 बजे से शाम 4 के बीच खुले जगहों पर समारोह आयोजित कराने पर भी रोक लगा दी गई है.

गया सबसे गर्म

जिलाधिकारी (डीएम) ने गर्मी और लू की वजह से लगातार हो रही मौतों के कारण ये आदेश निकाला है.

बता दें कि सबसे पहले गया में धारा 144 लगाई गई थी. गया जिले की गिनती बिहार के सबसे गर्म जिले के तौर पर होती है. पूरे सूबे में जहां भीषण गर्मी और लू से अब तक 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. गर्मी के कहर से नवादा, नालंदा, गया और औरंगाबाद जिला सबसे ज्यादा प्रभाावित है. राज्य सरकार ने अब तक 78 लोगों की लू से मौत की पुष्टि की है. औरंगाबाद में 34 लोगों के मौत की पुष्टि हुई है वहीं गया में मौत का आंकड़ा अब तक 31 है. गर्मी के प्रकोप को लेकर लेकर डीएम ने धारा 144 के तहत आदेश निकाला है.

खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...