Bihar Election: शरद यादव की बेटी सुभाषिणी और दिग्गज नेता काली पांडे कांग्रेस में शामिल

शरद यादव की बेटी सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.
शरद यादव की बेटी सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

Bihar Assembly Election: बिहार चुनाव के पहले चरण के मतदान 28 अक्टूबर से पूर्व दिग्गज राजनेता शरद यादव की बेटी सुभाषिणी यादव ने आज कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है. उनके साथ-साथ काली पांडेय ने भी कांग्रेस जॉइन की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 8:00 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले नेताओं का दल-बदल का सिलसिला जारी है. इसी क्रम में आज दिग्गज राजनेता शरद यादव (Sharad Yadav) की बेटी सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस पार्टी (Congress) की सदस्यता ग्रहण की. सुभाषिणी के अलावा बिहार के जाने-माने नेता काली पांडेय (Kali Pandey) ने भी कांग्रेस की सदस्यता ली है. सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस में शामिल होकर कहा कि अपने पिता की तरह उनकी भी जिम्मेदारी बनती है कि वे महागठबंधन को आगे ले जाएं. सुभाषिणी ने कहा, 'पिताजी की तबीयत ठीक नहीं चल रही है, इसलिए वो बिहार चुनाव में उतने एक्टिव नहीं हैं. बेटी होने के नाते मेरी नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि मैं उनके काम को आगे बढ़ाऊं. शरद यादव जी ने हमेशा महागठबंधन का साथ दिया है.' इधर, काली पांडेय ने कहा कि कांग्रेस उनका घर रहा है, वो अपने घर में लौट आए हैं.

कांग्रेस पार्टी में शामिल होते हुए शरद यादव की बेटी ने कहा कि अपने पिता के पदचिह्नों पर चलते हुए वह उनकी ही तरह जिम्मेदारीपूर्वक राजनीति करना चाहती हैं. सुभाषिणी ने कहा कि उनके पिता हमेशा महागठबंधन को मजबूत करने के लिए संघर्ष करते रहे हैं. वह भी इस गठबंधन को आगे ले जाने का हरसंभव प्रयास करेंगी. सुभाषिणी ने कांग्रेस में शामिल होने के लिए पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी का आभार जताया.

ये भी पढ़ें- धारा 370 पर बयान देकर बुरे फंसे फारूक अब्दुल्ला, बिहार की इस अदालत में देशद्रोह का केस दर्ज




काली पांडेय ने कांग्रेस में वापसी  करते हुए पार्टी को अपना घर बताया. उन्होंने कहा, 'आज खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. 1984 में विधायक बना था. राजीव गांधी का अट्रैक्शन था, इसलिए राजीव जी का साथ दिया. पहले भी मैं कांग्रेस पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ चुका हूं. ये मेरा पुराना घर है, खुशी है कि अपने घर वापस आ रहा हूं.' आपको बता दें कि काली पांडेय को बाहुबली विधायक के तौर पर जाना जाता रहा है. कांग्रेस के अलावा वो दूसरी पार्टियों में भी रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज