लाइव टीवी

सोकर उठे लोग तो सड़कों पर बिखरी पड़ी थी चांदी, लोगों में मची बटोरने की होड़, जानिए- पूरा मामला

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 6:50 PM IST
सोकर उठे लोग तो सड़कों पर बिखरी पड़ी थी चांदी, लोगों में मची बटोरने की होड़, जानिए- पूरा मामला
लोग सड़कों पर बिखरी चांदी की छोटी-छोटी बूंदों को चुन कर घर ले जा रहे हैं.

नेपाल बॉर्डर (Nepal Border) नजदीक होने के कारण तस्करी (Smuggling) के मामले से इनकार नहीं किया जा सकता है. सूचना पाकर बिहार पुलिस (Bihar Police) तहकीकात में जुट गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 6:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार (Bihar) के सीतमढ़ी (Sitamarhi) जिले के सुरसंड प्रखंड में आसमान से चांदी की 'बारिश' (Silver Rain) से लोग हैरान हैं. बुधवार की सुबह जब लोग नींद से जगे तो हैरान रह गए. लोगों ने सुरसंड के टॉवर चौक से बाराही गांव तक जाने वाली सड़क पर चांदी बिखरी पाई गई. सुबह-सुबह चांदी की 'बारिश' से इलाके के लोग हैरत में पड़ गए.

लोग सड़कों पर बिखरी चांदी की छोटी-छोटी बूंदों को चुन कर घर ले जाने लगे हैं. सभी एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि इतनी भारी मात्रा में सुरसंड की सड़कों पर शुद्ध चांदी कहां से आई. बता दें कि नेपाल बॉर्डर पास में ही इसलिए आशंका जताई जा रही है कि कोई तस्कर किसी बोरी में चांदी ले जा रहा होगा और बोरी फट जाने से चांदी रास्ते भर गिरती चली गई होगी.

सभी एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि इतनी भारी मात्रा में सुरसंड की सड़कों पर शुद्ध चांदी कहां से आई.
सभी एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि इतनी भारी मात्रा में सुरसंड की सड़कों पर शुद्ध चांदी कहां से आई.


आसमान में चांदी की बारिश को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. लोगों को लग रहा है कि कोई चोर या तस्कर बोरियों में भर कर चांदी की बुंदकियां इस रास्ते से लेकर जा रहा हो और उसका बोरा फट गया हो. हालांकि नेपाल बॉर्डर नजदीक होने के कारण तस्करी के मामले से इनकार नहीं किया जा सकता है. सूचना पाकर सुरसंड पुलिस तहकीकात में जुट गई है.

ये भी पढ़ें: 

कब खत्म होगा महाराष्ट्र का महा'संकट', CM पद को लेकर कौन कंप्रोमाइज करेगा?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 5:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...