• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • National Teachers Award: राष्ट्रीय पुरस्कार की रेस में बिहार के 6 शिक्षक, 5 सितंबर को दिया जाना है अवार्ड

National Teachers Award: राष्ट्रीय पुरस्कार की रेस में बिहार के 6 शिक्षक, 5 सितंबर को दिया जाना है अवार्ड

राष्ट्रीय पुरस्कार की रेस में बिहार के 6 शिक्षक

राष्ट्रीय पुरस्कार की रेस में बिहार के 6 शिक्षक

राष्ट्रीय पुरस्कार पाने वाले शिक्षकों की रेस में शॉर्ट लिस्टेड किए गए इन 6 शिक्षकों को इसी महीने के 5 अगस्त को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नेशनल ज्यूरी के समक्ष प्रजेंटेशन देना है. 

  • Share this:

पटना. बिहार के लिए खुशखबरी है. प्रदेश के 6 शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2021 को लेकर शॉर्टलिस्ट किया गया है. शार्ट लिस्ट किए गए शिक्षक कैमूर, गया, मुजफ्फरपुर, औरंगाबाद, मधुबनी और पटना जिले से हैं. अब उन शिक्षकों को इंडिपेंडेंट नेशनल ज्यूरी के समक्ष वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रेजेंटेशन दिया जाना है. इस संबंध में शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने 6 जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखा है.

पत्र में कहा गया है कि राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2021 हेतु बिहार से नामांकित शिक्षकों का इंडिपेंडेंट नेशनल ज्यूरी के समक्ष 5 अगस्त को VC के माध्यम से प्रजेंटेशन दिया जाना निर्धारित किया गया है. इस संबंध में केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 29 जुलाई को पत्र भेजा था. जिन शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2021 के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया है उनमें हरिदास शर्मा प्रभारी प्रधान शिक्षक राजकीयकृत मध्य विद्यालय डरहक रामगढ़ कैमूर, देवेंद्र सिंह, शिक्षक जिला स्कूल गया, अमरनाथ त्रिवेदी, प्रधान शिक्षक उत्क्रमित उच्च विद्यालय बेंगरा मुजफ्फरपुर, सुनील राम प्रधानाध्यापक राजकीय मध्य विद्यालय सथुआ रफीगंज औरंगाबाद, चंदना दत्त शिक्षिका राजकीयकृत मध्य विद्यालय राठी राजनगर मधुबनी और निशा कुमारी शिक्षिका राजकीयकृत महादेव उच्च विद्यालय खुसरूपुर पटना शामिल हैं.

प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने सभी 6 जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि इन सभी शिक्षकों को सरकारी गाड़ी से 5 अगस्त को शिक्षा विभाग के मुख्यालय पहुंचाना सुनिश्चित करें. राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए बिहार से कुल 74 शिक्षकों ने आवेदन दिया था जिसमें पहले चरण में 6 शिक्षकों को चयन किया गया है. केंद्र सरकार ने माना है कि सभी शिक्षको की दावेदारी गम्भीर है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज