स्मृति ईरानी बोली- मां लक्ष्मी हमेशा कमल के साथ आती है न कि हाथ पकड़कर या लालटेन के साथ

गौरतलब है कि हाथ का निशान कांग्रेस का चुनाव चिन्ह है जबकि लालटेन राजद का और कमल भाजपा का चुनाव निशान है. (फाइल फोटो)
गौरतलब है कि हाथ का निशान कांग्रेस का चुनाव चिन्ह है जबकि लालटेन राजद का और कमल भाजपा का चुनाव निशान है. (फाइल फोटो)

राजद (RJD) पर चुटकी लेते हुए भाजपा नेता ने कहा ‘‘ बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कभी भगवान से यह नहीं कहता है कि भगवान मुझे भी मौका दे कि मैं चारा घोटाले में पैसा कमा सकूं.’’

  • Share this:
पटना. केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा (BJP) की वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी ने कांग्रेस और राजद (RJD) पर तंज कसा है. उन्होंने शनिवार को कहा कि लक्ष्मी मां (Lakshmi Maa) हाथ पकड़कर या लालटेन के संग नहीं आती हैं,  बल्कि कमल पर सवार होकर आती हैं. इसलिये लोग भाजपा के पक्ष में मतदान करें. बिहार में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने कहा, 'जब मनुष्य भगवान की आराधना करता है, मां भगवती से आशीर्वाद मांगता है तो बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कहता है कि मां, बाजुओं में इतना बल दे कि मैं दो हाथों से दो जून की इज्जत की रोटी कमा सकूं. ’’

राजद पर चुटकी लेते हुए भाजपा नेता ने कहा ‘‘ बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कभी भगवान से यह नहीं कहता है कि भगवान मुझे भी मौका दे कि मैं चारा घोटाले में पैसा कमा सकूं.’’ स्मृति ने कहा ‘‘बिहार का नागरिक जब मां लक्ष्मी से आशीर्वाद मांगता है तो कहता है कि मां, बस मेरे बाजुओं में इतना दम दे कि भरण-पोषण अपने परिवार का इज्जत से कर सकूं.’’

लक्ष्मी जब घर आती हैं तो लालटेन संग नहीं लातीं
भाजपा उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘जब लोग लक्ष्मी के सामने शीश झुकाते हैं तो पाते हैं कि जब लक्ष्मी घर आती हैं तो कांग्रेस का हाथ पकड़कर नहीं आतीं. लक्ष्मी जब घर आती हैं तो लालटेन संग नहीं लातीं, बल्कि लक्ष्मी आती हैं तो कमल पर बैठकर आती हैं. इसलिए लक्ष्मी को घर लाना है तो कमल का बटन दबाना है.'
 कमल भाजपा का चुनाव निशान है


गौरतलब है कि हाथ का निशान कांग्रेस का चुनाव चिन्ह है जबकि लालटेन राजद का और कमल भाजपा का चुनाव निशान है. स्मृति ने कहा कि बिहार को नया और विकसित देखना है तो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को जिताएं. उन्होंने अपने संबोधन के दौरान विपक्षी राजद पर निशाना साधा और राजग सरकार की उपलब्धियां गिनायीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज