लाइव टीवी

Bihar Assembly Election: दल बदल की आहट तेज, दूसरी पार्टियों के संपर्क में हैं नेता
Patna News in Hindi

Anand Amrit Raj | News18Hindi
Updated: February 17, 2020, 10:00 PM IST
Bihar Assembly Election: दल बदल की आहट तेज, दूसरी पार्टियों के संपर्क में हैं नेता
कांग्रेस के बारे में सूत्र बताते हैं कि उनके कई विधायक जेडीयू और बीजेपी के सम्पर्क में हैं और बजट सत्र या राज्य सभा चुनाव हो या विधान परिषद का चुनाव उनकी निष्ठा पार्टी से इतर हो सकती है. (प्रतीकात्मक फोटो)

विधानसभा चुनाव करीब आने के साथ ही दल बदल की आहट भी सुनाई देने लगी है. अब जिन पार्टियों पर निगाह टिकी है उनमें राजद और कांग्रेस प्रमुख हैं. इन दोनों पार्टियों के कई विधायकों के बारे में चर्चा है की पार्टी का दामन छोड़ जेडीयू के पाले में जा सकते हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2020, 10:00 PM IST
  • Share this:
पटना. विधानसभा चुनाव के पहले बिहार में दल बदल का खेल तेज हो जाता है. पार्टी की निष्ठा छोड़ दूसरे दल का दामन थामने वाले नेता ऐसी दलील देते है की उन्हें वोट डालने वाली जनता भी हैरान हो जाती है. अब विधानसभा चुनाव करीब आने के साथ ही दल बदल की आहट भी सुनाई देने लगी है. अब जिन पार्टियों पर निगाह टिकी है उनमें राजद और कांग्रेस प्रमुख हैं. इन दोनों पार्टियों के कई विधायकों के बारे में चर्चा है की पार्टी का दामन छोड़ जेडीयू के पाले में जा सकते हैं

ये हैं राजद के विधायक जो बना चुके हैं मन
पहले बात राजद की जो लगभग मन बना चुके हैं राजद छोड़ने और जेडीयू में जाने का उनमें महेश्वर यादव, प्रेमा चौधरी, चंद्रिका राय, फराज फातमी और फैजल रहमान मुख्य नाम हैं जो चर्चा में हैं. ये सभी नीतीश के करीबी बताए जाते हैं लेकिन फिलहाल किसी ने भी अपने पत्ते नहीं खोले हैं. हालांकि अपने क्षेत्र के विकास के नाम पर ये नीतीश कुमार से उनके आवास पर मुलाकात कर चुके हैं. इसके अलावे भी कुछ विधायक हैं जिनके बारे में चर्चा है की जेडीयू के सम्पर्क में हैं लेकिन खुलकर अभी कोई सामने नहीं आ रहा है. उम्मीद है कि बजट सत्र के बाद ये सभी अपने पत्ते खोलें. लेकिन राजद के विधायक भाई विरेंद्र इससे इंकार कर रहे हैं. उनका कहना है कि हमारे विधायक हमारे साथ हैं, उलटा जेडीयू और बीजेपी के विधायक राजद के संपर्क में होने का वे दावा कर रहे हैं.

कांग्रेस के विधायकों की भी चर्चा



कांग्रेस के बारे में सूत्र बताते हैं कि उनके कई विधायक जेडीयू और बीजेपी के सम्पर्क में हैं और बजट सत्र या राज्य सभा चुनाव हो या विधान परिषद का चुनाव उनकी निष्ठा पार्टी से इतर हो सकती है. कुछ ऐसे नाम जिसके बारे में सूत्रों के हवाले से खबर है वे हैं सुदर्शन कुमार, मुन्ना तिवारी, अजित शर्मा, मनोहर कुमार, पूर्णिमा यादव हैं. ये वे नाम हैं जिसमें कुछ तो खुलकर नीतीश कुमार की तारीफ भी कर चुके हैं. वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो पार्टी की बैठकों में नदारद रहे हैं. यहां तक कि राहुल गांधी की सभा में भी कुछ विधायक शामिल नहीं हुए थे. खबर ये भी है कि इन विधायकों को जेडीयू में लाने के लिए कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और वर्तमान में जेडीयू के नेता और मंत्री अशोक चौधरी इनके संपर्क में हैं. इस संबंध में कांग्रेस एम एल सी प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि हमें जानकारी है कि कुछ विधायकों की निष्ठा पार्टी के प्रति वैसी नहीं है जैसी होनी चाहिए लेकिन हमें उम्मीद है कांग्रेस के विधायक पार्टी के साथ ही रहेंगे. वहीं जेडीयू के नेता और मंत्री जय कुमार साफ तौर पर कहते हैं कि दूसरी पार्टियों के विधायक हमारे संपर्क में हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 10:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर