Bihar Election 2020: जेल में बंद बाहुबलियों पर RJD मेहरबान, प्रभुनाथ सिंह के बेटे को भी मिला टिकट

छपरा से राजद के उम्मीदवार रणधीर सिंह
छपरा से राजद के उम्मीदवार रणधीर सिंह

Bihar Election: प्रभुनाथ सिंह की गिनती बिहार के बाहुबली नेताओं में होती है. उनको छपरा का नाथ जैसे नारों के साथ बिहार की राजनीति में जाना जाता है. इस बार के चुनाव में जेल में बंद इस बाहुबली के पुत्र को राजद ने टिकट दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 12, 2020, 10:53 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में होने वाला विधानसभा चुनाव (Bihar Election) इस बार भी बाहुबल से अछूता नहीं है विभिन्न दलों ने इस बार के चुनाव में बाहुबलियों के साथ-साथ उनके परिवार के लोगों को भी टिकट देने में दरियादिली दिखाई है बात चाहे एनडीए (NDA) की हो या फिर महागठबंधन की कई ऐसे नेताओं के परिवार को या फिर खुद नेताओं को टिकट दिया गया है जिन पर एक दो नहीं बल्कि कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. बिहार चुनाव में जिस परिवार पर सब की नजर थी उनमें से एक राजद के पूर्व सांसद और बाहुबली शहाबुद्दीन (Shahabuddin) का भी परिवार था हालांकि इस बार के चुनाव में राजद ने उनके परिवार से किसी को टिकट नहीं दिया है. जानकारी के मुताबिक राजद चाहता था कि शहाबुद्दीन की पत्नी हीना शहाब सीवान की रघुनाथपुर सीट से चुनाव में आए लेकिन उन्होंने चुनाव लड़ने से मना कर दिया. रघुनाथपुर से अब राजद ने हरिशंकर यादव कोआरजेडी का सिंबल दिया है जो कि जेल में बंद शहाबुद्दीन के बेहद करीबी हैं.

राजद ने  छपरा से रणधीर सिंह को टिकट दिया है जो कि जेल में बंद बाहुबली नेता प्रभुनाथ सिंह के बेटे हैं. प्रभुनाथ सिंह फिलहाल झारखंड की जेल में बंद हैं. उनकी गिनती बिहार के बाहुबली नेताओं में होती है और शुरू से ही लालू के काफी करीबी रहे है. उनको छपरा का नाथ जैसे नारों के साथ बिहार की राजनीति में जाना जाता है. दूसरी ओर पार्टी ने सहरसा से बाहुबली सांसद रहे आनंद मोहन की पत्नी को इस बार चुनावी मैदान में उतारा है. राजद ने आनंद मोहन की पत्नी और उनके बेटे चेतन आनंद को भी टिकट दिया है. चेतन आनंद आनंद जहां अपने परिवार की परंपरागत सीट शिवहर से चुनावी मैदान में होंगे तो वहीं उनकी मां लवली आनंद सरसा से चुनाव लड़ेंगी. लवली आनंद से जुड़े सूत्रों के मुताबिक वो 19 अक्टूबर को अपना नामांकन दाखिल करेंगे.

इसके अलावा राजद ने जेल में बंद बाहुबली विधायक अनंत सिंह जैसे नेताओं को भी टिकट दिया है जो कि इस बार मोकामा से चुनावी ताल ठोक रहे हैं और नामांकन भी कर चुके हैं. राजद से जिन बाहुबलियों के परिवार को टिकट मिला है उनमें रामा सिंह, अरूण यादव, राजबल्लभ यादव जैसे चेहरे भी शामिल हैं. दूसरी ओर जदयू की तरफ से जिन बाहुबली नेताओं को टिकट दिया गया है उनमें गोपालगंज के अमरेंद्र पांडेय जैसे लोग शामिल हैं इसके अलावा मुजफ्फरपुर शेल्टर होम से सुर्खियों में आई और अपना मंत्री पद गंवाने वाली जेडीयू की महिला नेत्री मंजू देवी, नरसंहार मामले में सज़ायाफ्ता रणवीर यादव की पत्नी पूनम देवी जैसे चेहरों को भी पार्टी ने इस बार चुनावी मैदान में उतारा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज